पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्थिति बदतर:बाढ़ व बारिश में कमी के बाद भी सुप्पी के खाप टोला की स्थिति बदतर, गांव से निकलने को पानी में उतरना मजबूरी

सीतामढ़ी6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव के चारो ओर अभी भी नासी और बागमती पुरानी धार तथा खेतों में पानी भरा हुआ

सुप्पी प्रखंड के नरहा पंचायत के ढाब टोला का वार्ड 10 की 14 सौ आबादी बाढ़ व बारिश में कमी के बावजूद भी परेशान में दिन गुजारने को मजबूर हैं। अभी तक इस गांव के सपंर्क को लेकर कोई रास्ता नहीं है। नतिजतन उन्हें मेड़ों से होकर पानी हेलते हुए करके गांव से बाहर निकलता है। राशन व रोजमर्रा की सामग्री के लिए इन्हें डेढ़ किमी दूरी पानी हेलते हुए मेड़ व कच्ची सड़क से बाजार पहुंचना पड़ता है। गांव के चारो ओर अभी भी नासी और बागमती पुरानी धार तथा खेतों में पानी भरा हुआ है।

गांव को निकलने में लोगों को चचरी पुल के सहारे नासी पार करना पड़ता है। इस बार की आई भीषण बाढ़ में लोगों के घरों में पानी घूस गया था तथा गांव की गलियों में भी पानी का बहाव था। इसके कारण उन्हें घरों की मरम्मत करनी पड़ रही है। यहां के लोग मजदूरी पर निर्भर हैं, प्रतिदिन मशक्कत कर इन्हें गांव से बाहर नरहा, रीगा चीनी मिल, रीगा बाजार व रीगा रैक पर मजदूरी करने निकलना पड़ता है। पानी पार करने की मजबूरी के कारण सभी शाम ढलने से पहले ही गांव में हर हाल में पहुंचने को मजबूर होते है। देर हाेने पर इन्हें रात में रीगा में ही किसी के यहां रूकना पड़ता है।

खबरें और भी हैं...