निर्देश:प्रारंभिक विद्यालयों में पर्यवेक्षक की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश

सीतामढ़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 17 सदस्यीय समिति में 50% माताएं हाेंगी शामिल

प्रारंभिक स्कूलाें में विद्यालय शिक्षा समिति के गठन काे लेकर पर्यवेक्षक की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। इसके लिए डीपीओ डाॅ. अमरेंद्र पाठक ने सभी बीईओ काे तीन दिनाें का समय दिया है। कहा है कि जिले स्कूलाें में विद्यालय शिक्षा समिति के कार्यकाल पूरा हाे चुका है अथवा जिन स्कूलाें में कार्यकाल पूर्ण हाेने वाला है वैसे सभी प्रारंभिक स्कूलाें में शिक्षा समिति का गठन कराना सुनिश्चित करें। इसके लिए तीन दिनाें के भीतर संकुलाें में संबंधित सीआरसीसी काे पर्यवेक्षक नामित करते हुए सभी प्रधानाध्यापकाें काे विद्यालय शिक्षा समिति के पुनर्गठन की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया है। कहा है कि विद्यालय शिक्षा समिति के गठन के लिए बच्चाें के अभिभावकाें काे विधिवत सूचना उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे।

गठन से संबंधित सभी गतिविधियाें की फाेटाे विडियाे करेंगे। ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार की आपत्ति हाेने पर साक्ष्य उपलब्ध कराया जा सके। डीपीओ ने कहा कि स्कूल में गठित हाेनेवाली 17 सदस्यीय विद्यालय शिक्षा समिति में 50 फीसदी माताओ काे शामिल किया जाएगा। बताया कि अधिसूचना के आलाेक में विद्यालय शिक्षा समिति में 17 सदस्य हाेंगे। जिसमें अध्यक्ष के पद पर वार्ड सदस्य पदेन हाेंगे। स्कूल के प्रधानाध्यापक भी पदेन सदस्य हाेंगे। इसके अलावा 9 ऐसे सदस्य चयनित हाेंगे जिसमें स्कूल में पढ़ने वाले छात्र छात्राओं की माता काे शामिल किया जाएगा। इसमें पिछड़ा वर्ग से 2, अत्यंत पिछड़ा वर्ग से 2, अनुसूचित जाति व जनजाति के 2, सामान्य जाति के 2 व एक माता सदस्य दिव्यांग बच्चे के हाेंगे। जीविका एवं महिला समाख्या के महिला समूह के दाे अध्यक्ष हाेंगे। इसके अलावा छात्र प्रतिनिधि केे दाे सदस्य एवं एक स्कूल के वरीय शिक्षक हाेंगे। वहीं स्कूल के दाता अथवा 10 लाख रुपये तक स्कूल काे राशि देने वाले परिवार के एक सदस्य काे शामिल किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...