पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रवासियों का आना जारी:स्टेशन पर खड़ी होने से पहले ही वैक्यूम करके कई यात्री भाग निकले, स्टेशन पर 41 लाेगाें की हुई जांच

सीतामढ़ी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यात्रियाें की जांच काे लेकर तैयार टीम। - Dainik Bhaskar
यात्रियाें की जांच काे लेकर तैयार टीम।
  • मुंबई से सीतामढ़ी पहुंची कर्मभूमि एक्सप्रेस में 116 यात्री थे सवार, 40 मिनट देर से पहुंची ट्रेन

मुंबई से चलकर सोमवार को सीतामढ़ी पहुंची कर्मभूमि एक्सप्रेस रेलवे स्टेशन से महज चंद कदम दूर ही थी कि वैक्यूम कर रोक दिया गया। आनन फानन में बहुत से यात्री उतरकर भाग निकले। जबकि रेलवे स्टेशन पर पुलिस के आलावा मेडिकल टीम इन यात्रियों के कोराेना जांच को तैनात थे। लिहाजा रेलवे स्टेशन पर महज 41 यात्रियों की ही कोरोना जांच की गई। जबकि अधिकारिक घोषणा के अनुसार इस ट्रेन में कुल 116 यात्री सवार थे। कर्मभूमि एक्सप्रेस निर्धारित समय से 40 मिनट विलंब से सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन पहुंची। स्टेशन से चंद कदम दूर ही वैक्यूम हुआ और अधिकांश यात्री ट्रेन से उतरकर सीधा अपने घर की ओर निकल पड़े। वैक्यूम के बाद जब स्टेशन पर गाड़ी खड़ी हुई, तो महज 41 यात्री उतरे। इन सभी यात्रियों का प्रतीक्षालय में बने सेंटर पर कोरोना जांच किया गया। इसमें एक भी यात्री कोरोना पॉजिटिव नहीं मिले। स्टेशन अधीक्षक के अनुसार इस ट्रेन से 116 यात्रियों को उतरना था।
खड़ी रही पुलिस, बगैर जांच के भागे यात्री : प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म-1 पर कर्मभूमि एक्सप्रेस का एक दो डिब्बा ही पहुंच रहा था, तभी वैक्यूम कर दिया गया। ट्रेन स्लो होते ही बॉगी से यात्री उतरकर प्लेटफॉर्म के विपरित दिशा में भागने लगे। यहां से महज चार कदम पर राजकीय रेल पुलिस चौकी है। इसके लिए मेजरगंज थानाध्यक्ष रमा शंकर सिंह, रीगा थाना पुलिस के पदाधिकारी तैनात किए गए थे। स्टेशन पर 11 पुलिस अधिकारियों की टीम बनाया गया था। लेकिन, इन यात्रियों को किसी ने नहीं टोका।

ड्यूटी में रेल पुलिस के अलावा मेजरगंज व रीगा पुलिस भी थी तैनात, किसी यात्री को नहीं टोका

^कोविड स्पेशल ट्रेन की पहुंचने की खबर जीआरपी, रेलवे सुरक्षा बल को दी गयी थी। ट्रेन वैक्यूम होने से यात्री प्लेटफार्म से पहले ही उतर कर भाग निकले। रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई से इस ट्रेन में 116 यात्री थे। लेकिन, 41 यात्री ही उतरे हैं, जिसका जांच कराया गया है। ट्रेन कई जगह रूकती है। कौन यात्री कहां उतर रहा है, इसकी जानकारी नहीं होती है।
मदन प्रसाद, स्टेशन अधीक्षक, सीतामढ़ी।

यात्रियों के सामान का भी सेनेटाइजेशन कराया गया
विश्रामालय में स्क्रीनिंग व कोविड जांच के लिए चार काउंटर लगाया गया था। विश्रामालय के गेट पर ही सभी यात्रियों के सामान को सेनिटाइज करने के बाद उन्हें जांच काउंटरों पर भेजा जाने लगा। जहां सबसे पहले उनकी स्क्रीनिंग व रजिस्टेशन की जा रही थी, इसके बाद रैपिड एंटीजेन जांच की गई। निगेटिव आने पर यात्रियों को जांच प्रमाणपत्र देकर होम कोरेंटाइन की हिदायत देकर रवाना किया जा रहा था।

यात्रियों ने कहा- लॉकडाउन होने से काम धंधा बंद हो गया, इस कारण घर वापस आना पड़ा

महाराष्ट्र से आए अधिकांश यात्रियों ने कहा कि मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में कोराना के कारण परेशानी बढ़ती जा रही है। वहां स्थिति भयावह होती जा रहा है। सतीश राय ने कहा कि लॉकडाउन होने के कारण काम धंधा बंद हो गया, जिसके कारण घर वापस आना पड़ा है। रामजी प्रसाद ने बताया कि वह पिछले बार भी वापस आया था, लेकिन, इस बार स्थिति काफी नाजुक है। दुकानें बंद हो रही थी, काम का अभाव होने लगा था और दिनों दिन परेशानी भी बढ़ रही थी। राजेश साह ने बताया कि वह परिवार के साथ वहां सब्जी का धंधा करता है। वर्तमान में वहां रोजी रोटी के लाले हैं। खाना पानी की भी परेशानी दिनों दिन बढ़ रही है। राम सकल चौधरी ने बताया कि गुमटी पर ट्रेन से बहुत सारे लोग उतर कर भागे हैं। उनमें कुछ लोग परिवार व बच्चों के साथ भी थे। सभी जांच से परहेज करते नजर आ रहे थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें