पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मैट्रिक परीक्षा:संस्कृत व्याकरण से पूछे गए अधिक प्रश्न, अनुच्छेद लेखन गद्यांश व अनुवाद के प्रश्न थे आसान, अच्छे अंकों की उम्मीद

सीतामढ़ी6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले के 45 केंद्रों पर 1153 परीक्षार्थियों की संस्कृत की परीक्षा छूटी, आज होगी ऐच्छिक विषय की परीक्षा

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा जिले के 45 केंद्रों पर छठे दिन मंगलवार को मैट्रिक की परीक्षा जारी रही। छठे दिन कदाचार के आरोप में एक भी परीक्षार्थी के निष्कासन की कोई सूचना नहीं है। कदाचारमुक्त वातावरण में परीक्षा संचालित किए जाने को लेकर अधिकारी भ्रमणशील रहे। दोनों पालियों में कुल 1153 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। प्रथम पाली में 609 परीक्षार्थी व दूसरी पाली में 544 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे।संस्कृत विषय में सवा तीन घंटे तक परीक्षा चली। कुल 105 सवाल थे। 35 पेज का प्रश्न पत्र था। खंड अ में 100 वस्तुनिष्ठ प्रश्नों में 50 प्रश्नों का उतर देना था। प्रत्येक सवाल के लिए एक अंक थे। खंड ब अपठित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए सवाल का उत्तर देना था। इस खंड मंे कुल 5 प्रश्न थे।
परीक्षार्थियों ने कहा- 7 वाक्य के अनुच्छेद लेखन सबसे सरल रहा : एमपी हाईस्कूल परीक्षा केंद्र से निकल रही राधा, पूनिता, राखी संध्या ने बताया कि संस्कृत के प्रश्न पत्र आसान थे। सात वाक्य का अनुच्छेद लेखन के लिए 13 अंक थे। यह सबसे आसान रहा। वस्तुनिष्ठ 100 प्रश्नों में से 50 प्रश्नों का उत्तर देना था। इसके अलावा संस्कृत में अनुवाद करना आसान रहा। एक अनुवाद के लिए दो अंक थे। इसमें आठ वाक्यों का अनुवाद करना था। जबकि 16 प्रश्न पूछे गए थे।

90 फीसद से अधिक परीक्षार्थी घर लौट गए

संस्कृत विषय की परीक्षा समाप्त होते ही परीक्षार्थियों का घर लौटना शुरू हो गया है। मंगलवार को वैसे परीक्षार्थी परीक्षा हॉल से निकलकर सीधा घर की ओर लौटे जिन्हें ऐच्छिक विषय की परीक्षा नहीं देनी थी। सूत्रों की माने तो 90 फीसद से अधिक परीक्षार्थी घर लौट गए। ऑटो संचालकों की चांदी रही। केंद्रों पर ऑटो चालकों की भी भीड़ लगी थी। अभिभावक ऑटो भाड़ा कर परीक्षार्थियों के साथ घर लौटे।

बेलसंड के 7 केंद्रों पर 238 परीक्षार्थी रहे अनुपस्थित
अनुमंडल मुख्यालय में सात केन्द्रों पर चल रहे मैट्रिक परीक्षा के छठे दिन कुल 238 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे । प्रथम पाली में 142 व द्वितीय पाली में 96 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे । मध्य विद्यालय मांची बालक परीक्षा केंद्र पर प्रथम पाली में 448 में 439 व द्वितीय पाली में 433 में 427 प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय में प्रथम पाली में 232 में 229 व द्वितीय पाली में 266 मे 261 जग्गनाथ सिंह महाविद्यालय चंदौली में प्रथम पाली में 568 मे 559 व द्वितीय पाली में 482 मे 475 गुरुशरण उच्च विद्यालय में प्रथम पाली में 1269 मे 1187 व द्वितीय पाली में 1307 में 1269 हितनारायण उच्च विद्यालय चंदौली में प्रथम पाली में 449 मे 434 व द्वितीय पाली में 468 मे 453 मध्य विद्यालय भोरहा माल में प्रथम पाली में 289 मे 277 व द्वितीय पाली में 321 में 307 उपस्थित हुए।

संस्कृत विषय की परीक्षा छात्रों के लिए संजीवनी के समान रही

हाईस्कूल बरियारपुर के संस्कृत विषय की शिक्षिका ऋचा रानी बताती हैं कि संस्कृत विषय परीक्षार्थियों के लिए संजीवनी रही। संस्कृत विषय के अधिक अंक उठते हैं। इस बार कोरोना काल को देखते हुए प्रश्न पूछे गए थे। जो परीक्षार्थी केवल मॉडल प्रश्न पत्र का अभ्यास किया था उसे परीक्षा देने में कोई कठिनाई नहीं हुई। मैट्रिक की परीक्षा में जो सवाल पूछे जा रहे है वह कोरोना काल को ध्यान में रखते हुए पूछे जा रहे है। संस्कृत व्याकरण से अधिक प्रश्न पूछे गए थे। अनुच्छेद लेखन, गद्यांश व अनुवाद से पूछे गए प्रश्न काफी सरल थे। इसलिए परीक्षार्थियों को कठिनाई महसूस नहीं हुई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें