पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी पहल:अब आपके द्वार पर चल रही है बच्चों की क्लास

सीतामढ़ी15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रून्नीसैदपुर में बच्चे के दरवाजे पर वर्ग का संचालन करते शिक्षक। - Dainik Bhaskar
रून्नीसैदपुर में बच्चे के दरवाजे पर वर्ग का संचालन करते शिक्षक।
  • रुन्नीसैदपुर में बुधवार से “शिक्षक बच्चों के द्वार’’ कार्यक्रम के तहत वर्ग संचालन शुरू हुआ

प्रखंड क्षेत्र स्थित खरपट्टी आदर्श मध्य विद्यालय के पोषक क्षेत्रों में एचएम खुशनंदन मंडल ने बुधवार से नामांकित बच्चों के घर-घर जाकर बच्चों का वर्ग संचालन करना शुरू कर दिया है। वहीं, विद्यालय के अन्य शिक्षक बालकृष्ण मिश्र, नीला झा, कादंबिनी, उर्मिला कुमारी, पूर्व छात्र चंदन कुमार, राजू कुमार, प्रीति कुमारी व भूमिका कुमारी भी इस मुहिम में सहयोग कर रहे है। इस दौरान वें बच्चों के घर जाकर कोविड-19 से बचाव, हाथ की धुलाई, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का प्रयोग, टीकाकरण की अनिवार्यता के लिए जागरूकता फैलाने के साथ ही बच्चों को पढ़ाने का काम कर रहे है।

गौरतलब हों कि स्कूल में पढ़ने वाले अधिकतर बच्चें गरीबी रेखा के नीचे वर्ग से आते है। उनके पास एंड्रॉयड मोबाइल फोन नहीं है। जिसके कारण एचएम व शिक्षकों को सोशल मीडिया के माध्यम से जारी ऑनलाइन क्लास में आशातीत सफलता नहीं मिल पा रही थी। लेकिन शिक्षक बच्चों के द्वार कार्यक्रम के प्रथम चरण में बच्चों के दरवाजे पर जाकर वर्ग संचालन एवं पाठ विषय उन्मुखीकरण से बच्चों में उत्साह देखा जा रहा है।
परिजनों से बच्चों को शिक्षण में मार्गदर्शन देने की अपील

इस संबंध में एचएम ने बताया कि यह कार्यक्रम जिले के लिए एक अनोखी पहल है। उन्होंने अभिभावकों से वैश्विक महामारी कोविड-19 के विषम परिस्थिति में जान-माल की सुरक्षा के साथ मानसिक और अधिगम गतिशीलता अपनाकर नौनिहालों के भविष्य को संरक्षित रखने का प्रयास करने की अपील की। वहीं, बच्चों को पुस्तक व शिक्षण अधिगम से जोड़ने के लिए उन्हें समय देकर मार्गदर्शन करने को कहा। कोरोना महामारी के कारण पिछले एक वर्ष से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित होने के कारण अभिभावक बच्चों के भविष्य को लेकर काफी परेशान थे। ऐसे में घर पर बच्चों को पढ़ाने से सभी खुश हैं।

खबरें और भी हैं...