पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बाढ़ का कहर:बाढ़ से घर छोड़ रेलवे ट्रैक पर रहने वालों को नहीं मिली कोई सहायता

डुमरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक माह से मोहल्ला छोड़ रिंग बांध व रेलवे ट्रैक पर रहने को हैं विवश

बाढ़ व जलजमाव के कारण नगर के जानकी नगर, कृष्णा नगर व कमला गार्डेन के कई गरीब व कमजोर परिवार रिंगबांध व रेलवे ट्रैक पर महिनों से अपना आशियाना बनाकर किसी प्रकार जीवन बसर कर रहे हैं। नदी में जलस्तर की कमी व मोहल्ले में पानी के घटने से अब लोग पुन: अपने घरों को वापस होने की तैयारी करने लगे हैं। लेकिन लोगों की परेशानी अभी भी कम नहीं हुई है। उनके घरों में पानी के कारण गाद जमा हो चुका है। वहीं मोहल्ले में भी कीचर व जलजमाव अभी बरकरार है। लोगों में प्रशासन की व्यवस्था को लेकर आक्रोश व्याप्त है।

लोगों ने कहा कि अभी तक मोहल्लें में प्रशासन द्वारा मोहल्ले में ब्लीचिंग अथवा चुना का छिड़काव तक नहीं किया गया है। जिससे अभी मोहल्ले में जाने में परेशानी है। लोगों ने कहा कि हम लोगों को प्रशासन बेसहारा के रूप में छोड़ दी। एक दो बार नगर परिषद एवं डुमरा से सीओ आई थी। अधिकारियों ने सभी सुविधा मुहैया करने का आश्वासन दिया। सामुहिक किचेन शुरू करवाने का भी आश्वासन दिया, लेकिन कुछ भी उपलब्ध कराया गया। यहां भोजन व पानी तक की किल्लत रही है। केवल एक चलंत शौचालय लाकर खड़ा कर दिया गया।
प्रशासनिक सुविधा की घोषणा महज खानापूर्ति
लखनदेई नदी के जलस्तर में बढ़ोत्तरी व भारी बारिश के कारण बांध व रेलवे ट्रैक पर आशियाना बनाये लोगों ने प्र्रशासनिक सुविधा उपलब्ध कराने की घोषणा को महज मजाक बताया। कहा कि उन्हें कोई सुविधा नहीं मिली। अधिकारी मिले लेकिन सुविधाएं नहीं मिली है। अभी भी मोहल्ले में दवा का छिड़काव नहीं किया गया है। जानकीनगर के रूदल राम ने बताया कि विगत एक माह से रेलवे लाइन पर किसी तरह अपना गुजर-बसर कर रहे हैं सरकार की ओर से किसी भी प्रकार का अब तक कोई सहायता मुहैया नहीं कराया गया है।

रामजी राम ने बताया रात्रि में सांप बिच्छू का भी भय बना रहता है लेकिन प्रशासन की ओर से अब तक किसी भी प्रकार का पहल नहीं की गई है। केवल नगर परिषद सीतामढ़ी द्वारा चलंत सुलभ शौचालय की गाड़ी लगा दिया गया है। लेकिन, चलंत सुलभ शौचालय का उपयोग हम लोग के द्वारा नहीं किया जा रहा है क्योंकि वह पूरा गंदा से भरा हुआ है। यह एक खानापूर्ति एवं दिखावा है, वहीं हाल में पानी कर टैंक लगाया गया है, लेकिन वह टैंक भी खाली ही है। पानी मिलता ही नहीं है जिसके कारण काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

लक्ष्मणजी राम ने कहा कि मवेशियों के लिए चारा भी नहीं मिल रहा है, हमलोग भुखमरी के कगार पर है। सभी रोजी रोटी बंद पड़ा है। राधिका देवी ने बताया सीओ आई थी। अाश्वासन दिया लेकिन कुछ नहीं मिल सका है। अगर प्रशासन तत्काल मोहल्ले में दवा का छिड़काव करवा दे तो हम यहां से वापस घरों को चले जाएगें। कुछ लोगों द्वारा घरों का साफ किया गया है, लेकिन अभी जाने लायक स्थिति नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें