• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Sitamarhi
  • Poonam Gave Vaccine To People From Village To Village From Morning To Evening Without Taking Leave, Also Told The Importance Of Vaccine

जज्बे को सलाम:पूनम ने बिना छुट्‌टी लिए सुबह से शाम तक गांव-गांव में लोगों को दिया टीका, वैक्सीन का महत्व भी बताया

सीतामढ़ी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुप्पी पीएचसी में कार्यरत एएनएम पूनम कुमारी को उनकी स्पाइनल बीमारी काम करने से नहीं रोक पाई

सुप्पी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत एएनएम पूनम कुमारी खुद स्पाइनल बीमारी से ग्रसित होते हुए भी टीकाकरण को सफल बनाने में सक्रिय रही हैं। अपनी जान की परवाह किए बिना एक दिन भी छुट्टी नहीं लेते हुए गांव-गांव पहुंचकर टीकाकरण की। वो बताती हैं कि जब सुबह 8 बजे ग्रामीण क्षेत्रों में जाते थे तब लोग टीका लेने से हिचकते थे। उनमें डर भरा हाेता था। घर-घर जाकर लोगों में जागरुक कर टीका देती थी। बताया कि उनके स्पाइनल में दिक्कत होने के कारण उनका हाथ सही से कार्य नहीं करता है। वो हार्ट से भी पीड़ित हैं। फिर भी उन्होंने टीकाकरण अभियान एक दिन भी नहीं छोड़ा। शुरुआती दौर में लोगों के बीच फैले अफवाह के कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। लोग टीका लेने से डरते थे। पर, वो समाज को कोरोना से बचाने के लिए जुटी रहीं। उनके इस कार्य के लिए चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. मनोज कुमार गुप्ता व तत्कालीन बीडीओ राहुल कुमार ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

शोभा देवी ने सेवा भाव के संकल्प के साथ किया टीकाकरण कार्य
पुपरी पीएचसी में तैनात एएनएम शोभा देवी ने कोरोना के समय आगे बढ़कर धैर्य एवं साहस के साथ आमजन की सेवा की। वह बताती हैं कि शुरुआती दौर में लोग वैक्सीन लेने से कतराते थे। बहुत से लोग टीम को देखकर भाग खड़े होते थे। कोरोना महामारी को देखते हुए खुद भी भय होता था। लेकिन अपना कर्तव्य विकट परिस्थिति में भी पीछे मुड़ने नहीं दिया। गांव-गांव जाकर लोगों को टीका दिया। टीकाकरण में उल्लेखनीय योगदान के लिए पिछले दिनों रेडक्राॅस की ओर से एक कार्यक्रम में पुपरी एसडीओ नवीन कुमार एवं डीएसपी विनोद कुमार ने इन्हें सम्मानित किया।

नूतन ने नाव से बागमती नदी पार कर दी वैक्सीन

रुन्नीसैदपुर प्रखंड क्षेत्र के तिलक ताजपुर अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत एएनएम नूतन कुमारी ने हौसला के साथ अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों को जागरुक कर टीका लगाने का सराहनीय कार्य किया। नूतन कुमारी ने बताया कि वो सुदूर इलाका रामनगरा, तिलक ताजपुर और भर्ती गांव में लोगों को कोरोना का टीका दी। महिला होकर भी बागमती के दियारा और बांध के इलाकों में जहां न कोई सवारी है, न कोई आने-जाने का सही रास्ता, फिर भी वहां जाकर लोगों को टीका लगाने का कार्य किया। इस दौरान वो खुद भी बीमार हो गई। पर, ठीक होते ही फिर से दोगुने उत्साह के साथ टीकाकरण में जुट गई। टीकाकरण के दौरान भ्रम में रहने वाले लोगों को जागरुक की कि कोरोना महामारी से बचने के लिए वैक्सीन जरूरी है। चिकित्सा प्रभारी डॉ. अमृत किशोर ने बताया कि नूतन कुमारी नियमित बागमती नदी को नाव से पार कर गांवों में जाती रही और लोगों को टीका दी। यह मिसाल कायम करने जैसा है।

खबरें और भी हैं...