खुशियों के दीप:पुनौराधाम में 151 दीप जला कर भव्य जानकी मंदिर निर्माण का लिया संकल्प

सीतामढ़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • काशी में विश्वस्तरीय शिव कॉरिडोर के लोकार्पण की खुशी में जलाए दीप

काशी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा विश्वस्तरीय शिव कॉरिडोर का लोकार्पण करने की खुशी में मंगलवार सीता कुण्ड पुनौराधाम में दीपोत्सव का आयोजन किया गया। इस दौरान संत किशोरी शरण मधुकर मुठिया बाबा, संत उमेशानंद जी महाराज, मंदिर न्यास समिति के सदस्य डाॅ. टीएन. सिंह आदि ने 151 दीप प्रज्वलित किया। वहीं आदि शक्ति की इस प्राकट्य स्थली पर भव्य बाल रूप जानकी मंदिर निर्माण कराने की प्रार्थना जगतजननी जानकी सीता से की गई। दीप प्रज्वलित करने के पूर्व पंडित अवधेश कुमार शास्त्री ने वैदिक मंत्रों उच्चारण के साथ शान्ति पाठ किया। संत मुठिया बाबा ने दीप प्रज्वलित होने के बाद कहा कि दीप का यह प्रकाश बाल रूप जानकी मंदिर निर्माण में छाए अंधेरे को दूर कर मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करेगा। संत उमेशानंद जी महाराज ने कहा कि मंदिर निर्माण के मार्ग में आने वाली बाधाओं को जगतजननी जानकी सीता दूर करेंगी। अवध की तरह यहां भी विश्वसनीय दिव्य बाल रूप जानकी मंदिर का निर्माण होगा।

पंडित शास्त्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अयोध्या में श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन के दौरान जय सियाराम का जय घोष कर सीता की प्राकट्य स्थली पुनौराधाम में दिव्य मंदिर के निर्माण का संकेत दिया था। डाॅ. टीएन. सिंह ने कहा कि जल्द ही भारत की पुरानी सांस्कृतिक गरिमा वापस आएगी, इसका शुभारंभ काशी से हो चुका है। इस कार्यक्रम के आयोजक तथा मिथिला राघव परिवार सेवा न्यास पुनौराधाम के वरिष्ठ सदस्य पत्रकार राम शंकर शास्त्री ने कहा कि जगतजननी जानकी सीता हमलोगों की प्रार्थना सुनेगी और यहां दिव्य बाल रूप जानकी मंदिर का निर्माण होगा। इसका संकल्प तुलसी पीठाधीश्वर स्वामी श्री राम भद्राचार्य जी महाराज ने की है। अयोध्या के बाद काशी और इसके बाद जगतजननी जानकी सीता की प्राकट्य स्थली पुनौराधाम अब विश्व के मानचित्र पर स्थापित होगा, इसमें संशय नहीं है। इस अवसर पर समिति के सदस्य धनुषधारी प्रसाद सिंह, वैदेही शरण, जनकनंदनी शरण, अनिल कुमार, प्रमोद तिवारी, रंजन कुमार आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...