कंट्राल रूम लाइव:सर! पीठासीन पदाधिकारी बोल रहे हैं, लिंक कनेक्ट नहीं हो रहा

सीतामढ़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कंट्रोल रूम में ड्यूटी पर तैनात कर्मी। - Dainik Bhaskar
कंट्रोल रूम में ड्यूटी पर तैनात कर्मी।
  • कलेक्ट्रेट के विमर्श कक्ष में चल रहा था नियंत्रण कक्ष

कलेक्ट्रेट के विमर्श कक्ष में स्थापित जिला नियंत्रण कक्ष में सुबह छह बजे से ही डीएम सुनील कुमार यादव मुस्तैद थे। सभी के सामने फोन रखा हुआ था तथा एक दो कॉल भी आने लगे। कर्मी फोन रिसीव करते एवं शिकायत दर्ज करके प्रभारी को बताते थे। इस पर प्रभारी संबंधित बूथ के सेक्टर मजिस्ट्रेट व बीडीओ को इसकी जानकारी देकर समस्या के समाधान पर पहल करने का निर्देश देते देखे गए। चोरौत व नानपुर प्रखंड में ईवीएम के लिंक की शिकायत दो घंटे तक मिलती रही एवं ठीक करवाया कर पीठासीन पदाधिकारी से शिकायत के समाधान की बात पूछी जाती रही। मतदान को लेकर सभी कर्मी अपने संबंधित बूथों पर नजर टिकाए थे तथा लगातार हाल लेते देखे गए। इधर दिन चढ़ने के साथ ही मतदाताओं की कतारें भी लंबी होने लगी। महिलाओं व बुजुर्गों में भी मतदान को लेकर उत्साह देखा गया।

दस बजे के बाद शिकायत में कमी
एक घंटे तक विभिन्न स्थानों से विभिन्न पदों के ईवीएम के लिंक नहीं कनेक्ट करने की शिकायत आती रही और उसे ठीक करवाकर पदाधिकारी से जानकारी ली जाती रही। करीब दो घंटे के बाद इस स्थिति में कमी आती रही। इसके बाद शिकायत आना लगभग बंद हो गया। हालांकि की सभी कर्मी व अधिकारी लगातार फोन पर डटे नजर आते रहे।

नियंत्रण कक्ष में दो शिफ्ट में लगी थी ड्यूटी
नियंत्रण कक्ष सुबह छह बजे से ही सक्रिय था। सभी अधिकारी व कर्मी अपने अपने स्थान पर डटे थे। नियंत्रण कक्ष में दो शिफ्ट में काम की जवाबदेही विभिन्न सेक्टरों के लिए बांटी गई थी। पहला शिफ्ट छह से दो बजे तक था, इसके बाद दूसरे शिफ्ट के कर्मियों ने कमान संभाल ली। देर रात तक लगातार सभी स्थानों की निगरानी की जाती रही। कर्मी मतदान में शामिल अपने सेक्टर के अधिकारी से संपर्क में बने रहे।

रजिस्टर पर दर्ज होती रही शिकायत

सात बजने के साथ ही फोन की घंटियां बजने लगी। हेलो सर! मैं चोरौत के बूथ संख्या 80 का पीठासीन पदाधिकारी बोल रहा हूं। ईवीएम में खराबी आ गई है, मतदाता भी लाइन मे खड़ा होने लगे हैं। शीघ्र सर कोई उपाय किजिए। कर्मी ने सूचना को रजिस्टर में लिखा एवं प्रभारी पदाधिकारी को बताया। पदाधिकारी ने तुरंत ही संबंधित बीडीओ को जानकारी दी तथा शीघ्र उस सेक्टर के तकनीशियन को बूथ पर भेजकर ईवीएम की खराबी दूर करवाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही रिपोर्ट भी देने को कहा। करीब 20 मिनट बाद बीडीओ ने ईवीएम ठीक होने की बात कही। इसके बाद कर्मी ने पीठासीन पदाधिकारी से बात कर ईवीएम ठीक होने की जानकारी ली। इसके बाद रजिस्टर पर ओके लिखा।

खबरें और भी हैं...