इनसाइड स्टोरी:डकैताें ने घर के पास खेत में बैठकर शराब पी थी, बना हुआ आधा पैग छाेड़ भी दिया

सीतामढ़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डुमरा के पकटाेला में दवा व्यवसायी दीपेश मुखिया के डकैती के बाद छानबीन में जुटी पुलिस। - Dainik Bhaskar
डुमरा के पकटाेला में दवा व्यवसायी दीपेश मुखिया के डकैती के बाद छानबीन में जुटी पुलिस।
  • पकटोला के दवा व्यवसायी दीपेश मुखिया के घर डकैतों ने तांडव मचाया

सोमवार की रात डुमरा थाना के पकटोला निवासी दवा व्यवसायी दीपेश मुखिया के घर डकैती से पूर्व डकैतों ने शराब पी थी। इसके बाद घर का दरवाजा खुलवाया और लूट की घटना को अंजाम दिया। घर के पीछे से पुलिस ने शराब की बोतल और आधा पैग शराब को बरामद किया है। गृहस्वामी के साले रंधीर कुमार ने बताया कि डकैत खेत से होकर घर तक पहुंचे। इसके बाद उसके घर के पीछे दक्षिण साइड की खिड़की को लोहे के रॉड और खनती से उखाड़ने का प्रयास किया गया। विफल होने पर कुछ डकैत घर के आगे उत्तर की ओर आ गए। दरवाजे के बगल की खिड़की से बाहर के कमरे में सोये दीपेश को उठाकर दरवाजा खोलने को कहा गया। इससे घबरा कर भाग रहे दीपेश पर डकैतों ने फायरिंग शुरू कर दी।

इसके बाद बंदूक की नोंक पर भयभीत कर दीपेश से घर का मुख्य द्वार खुलवाया गया। चार डकैत जो हथियार से लैस थे, घर में घुस गए और लूटपाट मचाना शुरू कर दिया। वहीं घर के बाहर अन्य डकैत पहरा देने लगे। घर में घुसे डकैत दीपेश की हत्या करने की धमकी देकर बारी-बारी से सभी कमरे का दरवाजा खुलवाया और सभी को घर के डायनिंग हाॅल में बुलाकर बंधक बना लिया। इस दौरान एक डकैत बंदूक का भय दिखाकर गृहस्वामी समेत सभी सदस्यों को बंधक बनाया हुआ था। तो वहीं अन्य तीन साथी कमरे में रखे आलमीरा, पेटी, ट्रंक आदि को तोड़कर उसमें रखे जेवरात समेत 4 लाख रुपए ले फरार हो गए। लाैटते समय डकैत बंदूक की नोंक पर दीपेश को बंधक बना दरवाजे से बाहर निकले और मेन गेट खुलवा फरार हो गए।

आज था भतीजी का तिलक, रखे गहने और कैश ले गए डकैत
गृहस्वामी की पत्नी शैल देवी ने बताया कि डकैत घर में घुस आए और पुत्रवधु के अलमीरा से उसके सभी गहने निकाल लिए। बुधवार को भतीजी का तिलक है, जिसे देने के लिए रखे गहने और 4 लाख कैस भी डकैतों ने छीन लिया। इतना ही नहीं, शादी को लेकर घर में आए परिवार के अन्य सदस्यों और मायके पक्ष के लोगों के गहने को भी डकैताें ने लूट लिया।

कोई सुराग नहीं, पूरे दिन खेत में घूमता रह गया खोजी कुत्ता
डकैती की सूचना पर पहुंची डूमरा थाना पुलिस द्वारा एसएसबी के खोजी कुत्ते (स्वान दस्ता) को बुलाया गया। लेकिन, इससे भी पुलिस के हाथों कोई सुराग हाथ नहीं लगा। जांच में आया खोजी कुत्ता सर्वप्रथम घर के पीछे से अपना अनुसंधान प्रारंभ किया। इसके बाद घर के विभिन्न कमरे की जांच की। घर के बगल में खाली खेत में जाकर रुक गया।

खबरें और भी हैं...