लापरवाही:नाइट कर्फ्यू के पहले दिन नहीं दिखा असर, कहीं खुली रहीं, पुलिस की गाड़ी दिखी तो गिराया शटर

सीतामढ़ी13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुपार रात 10.40 बजे स्टेशन रोड में हो रही आवाजाही। - Dainik Bhaskar
गुरुपार रात 10.40 बजे स्टेशन रोड में हो रही आवाजाही।
  • सदर अस्पताल में मास्क नहीं मरीजों के परिजन बिना मास्क के ही परिसर में घूम रहे थे

कोरोना संक्रमण में लगातार हो रही वृद्धि को लेकर भले ही जिले में 6 जनवरी से नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है, लेकिन इसका असर नहीं दिख रहा है। भास्कर टीम ने गुरुवार की रात 10:25 बजे से 12:00 बजे तक शहर के विभिन्न चौक-चौराहाें की पड़ताल की। इस दौरान कहीं सड़कों पर सन्नाटा पसरा दिखा ताे कहीं चहल-पहल रही। मुख्य मार्ग पर सरपट वाहन दौड़ते रहे। स्टेशन रोड व सुरसंड रोड में कई दुकानें खुली मिली। इस दौरान मेहसौल ओपी की गश्ती वाहन जरूर दिखी लेकिन नाइट कर्फ्यू का सख्ती से अनुपालन कराने की दिशा में कोई पहल नहीं की जा रही थी। हालांकि पुलिस का वाहन देख दुकानदार अपनी दुकान का शटर गिराते जरूर नजर आए लेकिन, पुलिस वाहन के जाते ही शटर उठाकर दुकान संचालित करने में व्यस्त रहे।

सदर अस्पताल में सन्नाटा, बगैर मास्क के दिखे लोग
गुरुवार की रात के 10:15 बज रहे थे। सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में एकमात्र महिला मरीज भर्ती थी। जबकि उनके चार पांच परिजन मरीज के साथ बैठे थे। इन परिजनों ने मास्क भी नहीं लगाया था। स्टाफ रूम में चिकित्सक व कर्मी मुस्तैद दिखाई दिए। जबकि प्रसव वार्ड के बाहर एक टेंपू रुकी। टेंपू से उतर रहे लोगों ने बताया कि उनका एक मरीज सदर अस्पताल में भर्ती है। टेंपू पर सवार लोगों ने भी मास्क नहीं लगाया था। जबकि इन लोगों को रोकने टोकने के लिए कोई गार्ड भी नजर नहीं आ रहे थे।

शहर में पसरा था सन्नाटा, नहीं दिखे पुलिसकर्मी
गुरुवार की रात के 10:30 बज रहे थे। शहर के सोनापट्‌टी, मिरचाईपट्टी, सरावगी चौक, गांधी चौक, महंथ साह चौक, गुदरी रोड की दुकानें पूर्णतः बंद मिली। इस सड़क से होकर इक्का-दुक्का वाहनें गुजरती रही। लेकिन, इस दौरान उक्त स्थानों पर एक भी पुलिसकर्मी नहीं दिखे।

डुमरा मंे दिखे चहलकदमी करते चार पुलिसकर्मी
इधर डुमरा में संतोषी चौक के पास चार पुलिस कर्मी एक साथ डंडे लेकर चहलकदमी करते दिखे। जैसे ही इन पुलिसकर्मियों की नजर बाइक पर पड़ी। रोका, कहा- नाइट कर्फ्यू लगा है देर से सड़क पर मत निकले। फिर सड़क पर गश्त लगाते हुए आगे की ओर निकल पड़े।

स्टेशन रोड की दुकानें खुली रही, पुलिस आयी, निकल गई

गुरुवार की रात के 11 बज रहे थे। सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन रोड की अधिकांश दुकानें खुली थी। हर दुकान पर ग्राहक भी दिखे। इस रोड में वाहनें भी कुछ अंतराल पर दाैड़ रही थी और लाेगों की चहलकदमी भी दिखी। यहां आम दिनों की तरह सभी जेनरल स्टोर से लेकर सभी भोजनालय खुली थी। इसी बीच 11:10 बजे मेहसौल आेपी की गश्त वाहन इस सड़क से होकर गुजरी। वाहन से ही एक पुलिस कर्मी ने दुकानदारों को आवाज लगाई “तुमलोग नहीं मानोगे... पुलिस को देख कुछ दुकानदान अपना शटर गिराने लगे। लेकिन जैसे ही वहां से वाहन निकली दुकानदार फिर से अपने दूकान की शटर उठा दिया और दुकान संचालित करने में व्यस्त हो गए।

खबरें और भी हैं...