डकैती के बाद घर में बिखड़ा सामान।:गश्ती लगाती रही पुलिस, इसी बीच गेट तोड़ कर घर में घुसे डकैत, शिक्षक दंपती को लूटा

सीतामढ़ी14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डकैती के बाद घर में बिखड़ा सामान। - Dainik Bhaskar
डकैती के बाद घर में बिखड़ा सामान।
  • 3 घंटे के बीच में गांव के दो टोले में 5 लाख की डकैती कर फरार हो गए सशस्त्र डकैत

डकैती की घटना को अंजाम देने के लिए गुरुवार की रात जकनीपुर गांव में पहुंचे डकैतों ने तीन घंटे के अंतराल पर बारी-बारी से अलग अलग टोले में घटना को अंजाम दिया है। इस दौरान डकैतों ने दोनों जगहों से नकद समेत तकरीबन 5 लाख रुपये की संपत्ति लूट की घटना को अंजाम दिया है। रात करीब 12:30 बजे जानीपुर गांव स्थित कठरिया टोला निवासी दिनेश मिश्र के घर में आधा दर्जन डकैतों ने घर के मेन गेट को तोड़ कर घर में घुसकर लूटपाट की। गृहस्वामिनी मंजू देवी ने बताया कि उस समय घर में केवल महिलाएं थी। सभी डकैतों ने महिला को हथियार के बल पर डराकर लूटपाट की।

इस दौरान जब सुधीर कुमार ठाकुर की पत्नी मंजू देवी ने विरोध करना चाहा, तो डकैतों ने उनके साथ मारपीट किया। वहीं शोर होता सुन पड़ोस के लोगों को जब डकैती की जानकारी हुई, तो ग्रामीण डकैतों को घेरना चाहा। जिसे देख डकैत दहशत पैदा करने के उद्देश्य से हथियार दिखा ग्रामीणों को डराने लगे। इसी क्रम में भागते हुए एक डकैत ने ग्रामीणों पर अंधाधुंध फायरिंग करने लगे। जिसमें पड़ोस के 60 वर्षीय राम दिनेश मिश्र को गोली लग गई। जिसके बाद ग्रामीण रुक गये। वहीं डकैत सड़क के नीचे आम के बगीचा में भाग निकले। मंजू ने बताया कि घर में घुसे डकैतों ने कमरे में रखे संदूक और आलमीरा में रखे 50 हजार नकद समेत कुल तीन भर सोने की चेन समेत कीमती सामान लूट लिया।

डकैती की घटना से ग्रामीणों में आक्रोश, खोपी चौक पर पुलिस चौकी लगाने की मांग की

गांव मे दिनेश मिश्र के घर डकैती की घटना के बाद जहां पुलिस के अधिकारी जांच में जुट गए। वही ग्रामीणों के अनुसार पुलिस लगातार गांव मे गस्त लगा रही थी। ठीक इसी बीच सेवानिवृत्त शिक्षक राजकरण मिश्र के घर मे तकरीबन ढाई घंटे तक चल रही डकैती की घटना से पुलिस के अनभिज्ञ रहने के कारण ग्रामीणों का गुस्सा भड़कता रहा। वही जब दूसरे घटना स्थल पर पुलिस पहुंची तो उन्हें ग्रामीणों के भारी आक्रोश का सामना करना पड़ा। हालांकि इस दौरान स्थानीय जन प्रतिनिधियों के हतक्षिप के बाद ग्रामीण शांत हुए। प्रखंड अनुपम कुमार बमबम ने घटना पर गहरी चिंता व नाराजगी जताते हुए घटना में संलिप्त डकैतों की जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है। उन्होंने एसपी से खोपी चौक पर पुलिस चौकी लगाने की मांग की।

पाैने दाे घंटे तक की लूटपाट
किसान के घर में डकैती के बाद जहां पुलिस पहुंच डकैतों के तलाश में जुटी थी। तो वही करीब पौने तीन बजे दो किलोमीटर की दूरी पर जानीपुर गांव के ही खोपी टोला में डकैतों ने सेवानिवृत्त शिक्षक राजकरण मिश्र के घर वृद्ध दंपत्ति को बंधक बना लूट की घटना को अंजाम देने में जुटे रहे। गृहस्वामिनी चन्द्रकला देवी ने बताया कि दोनों पुत्र बाहर रहते हैं। घर में दंपती सोये थे। चार हथियारबंद डकैत घर में पीछे वाली दिवाल को फांद कर कैंपस में घुस आये और पीछे वाले गेट को तोड़ घर में घुस लूटपाट करने लगे। नींद खुली तो डकैतों ने हथियार का भय दिखाकर लूटपाट करने लगे। डकैतों ने कुल पौने दो घंटे लूटपाट किया और डब्बे में रखा 22 हजार रुपये व लगभग 5 तोले के सोने के आभूषण सहित अन्य सामान लूट लिया। पीड़िता ने बताया कि दो घंटे तक डकैत उनके घरों में लूट करते रहे।

खबरें और भी हैं...