पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महंत को नशा खिलाकर की लूटपाट:सीतामढ़ी में नशा खुरानी गिरोह ने महंत के खाने में नशा मिलाया, बेहोश होने के बाद अलमारी का लॉक तोड़कर कैश निकाला, साइकिल भी ले उड़े

सीतामढ़ी2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महंत को बुधवार दोपहर तक होश नहीं आया था। - Dainik Bhaskar
महंत को बुधवार दोपहर तक होश नहीं आया था।

सीतामढ़ी में नशा खुरानी गिरोह ने मंगलवार देर रात बरियारपुर मठ के महंत को खाने में नशा देकर लूट के घटना को अंजाम दिया। महंत को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।ग्रामीणों का कहना है कि एक युवक साधु के भेस में मठ पर आया था और रात को खाना भी उसी ने बनाया। दोनों एक साथ खाना भी खाए लेकिन जब सुबह हमलोगो ने देखा तो महंथ नशे के हालत में बेड पर ही पड़े हुए थे। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महंत को सदर अस्पताल में भर्ती कराया। महंत को बुधवार दोपहर तक होश नहीं आया था।

जानकारी के मुताबिक, शातिरों ने मठ में रखे अलमीरा का ताला तोड़कर उससे कैश और जेवर लेकर फरार हो गए। ग्रामीणों ने बताया कि लुटेरे ने महंत का साइकिल भी चुरा कर ले गए। घटना के बाद गांव में हड़कंप मच गया। ग्रामीणों ने कहा कि ऐसी घटना पूर्व में भी हुई है। लगातार ऐसी घटनाओं के कारण ग्रामीणों के नींद उड़ चुके है। मुखिया ने बताया कि बरियारपुर का यह क्षेत्र नशा का हब बन गया है। जिसके कारण गांव के नवयुवक गलत नशे के लत से खराब हो रहे है। इसको ग्रामीणों के सहयोग से एक समिति का गठन किया गया है और ये समिति गांव में डोर टू डोर घूमकर अभियान चलाकर बरियारपुर गांव को नशा मुक्त बनाएगे।

गौरतलब हो की इस क्षेत्र में पूर्व भी कई ऐसी घटनाओं को अंजाम दिया गया है। इससे पूर्व 7 साल के बच्चे को नशा देकर अगवा कर लिया गया था। इसमें पुलिस ने 24 घंटे के अंदर बच्चे को बरामद कर लिया। लेकिन, अपराधी अभी भी गिरफ्त से बाहर है। उक्त मामले को लेकर पुलिस ने कहा कि घटना को लेकर जांच की जा रही है। जल्द में मामले इस गिरोह का पर्दाफाश किया जाएगा। महंत का इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं...