पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुरनहिया का मामला:दाे पक्षाें के बीच हुए विवाद काे लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे ग्रामीणाें ने डीएसपी का किया घेराव, अाश्वासन पर माने

सीतामढ़ी2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समाहरणालय के समक्ष ग्रामीणों को समझाते डीएसपी। - Dainik Bhaskar
समाहरणालय के समक्ष ग्रामीणों को समझाते डीएसपी।
  • झूठे मुकदमे में फंसाए जाने पर भड़के लोग, थानाध्यक्ष पर लगाया आरोप

जिले के सहियारा थाना के पुरनहिया गांव में दाे पक्षों के बीच चल रहे विवाद व झूठे मुकदमें में फंसाए जाने काे लेकर बुधवार काे कलेक्ट्रेट पहुंचे ग्रामीणाें ने डीएसपी सदर का घेराव किया। मामले काे लेकर डीएसपी ने इसे गंभीरता से लेते हुए ग्रामीणाें की समस्या सुनी। करीब आधे घंटे बाद डीएसपी द्वारा गांव पर पहुंच कर मामले की छानबीन करने का आश्वासन दिए जाने के बाद ग्रामीण लाैट गए। ग्रामीण मुखिया व थानाध्यक्ष के विरुद्ध अाराेप लगा रहे थे। राम निवास पासवान, बिजलाल पासवान निर्मला देवी, मंजू देवी, शांति देवी आदि का कहना था कि सहियारा के थानाध्यक्ष पुरनहिया के मुखिया के नजदीकी रिश्तेदार है। पंचायत के गंदी राजनीति के चलते गांव के दाे पक्षाें के बीच लड़वाने का काम कर रहे है। ऐसी स्थिति में वर्तमान थानाध्यक्ष के रहते कभी भी न्याय मिलने की उम्मीद नहीं है।
कलेक्ट्रेट गेट पर एक घंटे तक दिया धरना : पुरनहिया गांव के बिजलाल पासवान, राम निवास पासवान समेत करीब 50 से अधिक महिला पुरुष बुधवार काे सुबह के 11 बजे ही पहुंचे। जहां कलेक्ट्रेट गेट पर खड़े सुरक्षाकर्मियाें में अधिक संख्या में कलेक्ट्रेट गेट के भीतर जाने से राेका। ग्रामीणाें एसपी से मिलने के लिए जिद पर अड़े थे। सुरक्षाकर्मियाें काे अंदर प्रवेश से राेके जाने व कार्यालय में एसपी के नहीं हाेने की बात पर ग्रामीण कलेक्ट्रेट गेट के सामने धरना पर बैठ गए। साथ ही एसपी के आने का इंतजार करने लगे। सुरक्षाकर्मी की सूचना पर महिला पुलिस पहुंची। करीब एक घंटे के इंतजार के बाद जैसे की डीएसपी सदर की वाहन कलेक्ट्रेट गेट पहुंची, ग्रामीणाें ने डीएसपी का घेराव कर दिया। डीएसपी वाहन से उतरे और ग्रामीणाें की समस्या गंभीरता सुनी। ग्रामीणाें ने कहा कि मुखिया के कहने पर दूसरे पक्ष के लाेगाें ने झूठा दुष्कर्म करने का प्राथमिकी दर्ज हुई है। डीएसपी के आश्वासन के बाद ग्रामीण लाैटे।

खबरें और भी हैं...