पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आक्रोश:चुनाव को लेकर दी गई ट्रेनिंग में नहीं थी काेरोना से बचाव की व्यवस्था, प्रशिक्षुओं में आक्रोश

सीतामढ़ी11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीएवी स्कूल में आशा, एएनएम व आंगनबाड़ी सेविका को दिया गया प्रशिक्षण

चुनाव में कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर शनिवार को डीएवी स्कूल में आशा, एएनएम व आंगनबाड़ी सेविका के प्रशिक्षण में भीड़ जुटी रही। इससे प्रशासनिक व्यवस्था धराशाही हो गयी। इसको लेकर भले ही सभी प्रशिक्षु मास्क पहनी रही, लेकिन प्रशिक्षण कक्ष से लेकर बाहर सड़क तक सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती रही। प्रशिक्षण में 6250 एएनएम, आशा व सेविका को शामिल होने के लिए बुलाया गया था। प्रशिक्षण में डुमरा, नानपुर, बोखड़ा, बाजपट्टी व रून्नीसैदपुर प्रखंड की एएनएम, सेविका व आशा को थर्मल स्कैनिंग एवं हैंड सेंटेराइजिंग का प्रशिक्षण दिया गया है। इसमें तीन हजार एएनएम, तीन हजार आशा व 250 एएनएम को शामिल हुई। स्कूल के प्रशिक्षण कक्ष से लेकर सड़क तक प्रशिक्षुओं की भीड़ लगी रही।

प्रशिक्षण कक्ष में भी एक ही बेंच पर दो-दो प्रशिक्षु बैठे थे। प्रशिक्षण में घुसने व निकलने के समय तो स्थिति और भी अधिक भयावह बन गई। वहीं स्कूल से निकलते समय भी स्थिति भयावह ही रहा, इसके कारण मुख्य सड़क पर भी करीब दो घंटे तक जाम लगा रहा है। दूर से आई प्रशिक्षुओं के लिए पानी तक की व्यवस्था नदारद थी। प्रशिक्षुओं ने आक्रोश जताते हुए कहा कि ऐसी व्यवस्था में प्रशिक्षण से तो गांव गांव तक संक्रमण पहुंचने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है। मतदान केंद्र पर उपस्थित होकर थर्मल स्कैनिंग एवं हैंडसेट राइजिंग के अलावे मतदाता केंद्र को स्वच्छ एवं लोगों को जागरूक करने का निर्देश दिया गया। मौके पर आशा सुपरवाइजर सर्बानंद पांडे, सलोनी कुमारी, लवली कुमारी, डीपीए आशीष कुमार, ट्रेनर अजय कुमार गुंजन आदि मौजूद थे। इधर कुव्यवस्था के प्रश्न पर नोडल पदाधिकारी डॉ. आरके यादव ने स्वीकार किया कि भीड़ के कारण कुछ कमी रह गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थितियां आपके पक्ष में है। अधिकतर काम मन मुताबिक तरीके से संपन्न होते जाएंगे। किसी प्रिय मित्र से मुलाकात खुशी व ताजगी प्रदान करेगी। पारिवारिक सुख सुविधा संबंधी वस्तुओं के लिए शॉपिंग में ...

और पढ़ें