पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आत्मनिर्भर:रोजगार बढ़ाने और आत्मनिर्भर बनाने के लिए 82 वेंडरों को दिया 10-10 हजार रु. का लोन

सीतामढ़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • योजना के तहत एक वर्ष के अंदर लोन चुका देने वालों को बिजनेस बढ़ाने के लिए लोन के रूप में दी जाएगी बड़ी राशि

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर योजना के अंतर्गत शहरी फुटपाथी वेंडरों को 10 हजार रुपए का लोन दिया जा रहा है। दीन दयाल अंत्योदय योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत नगर परिषद क्षेत्र में यह योजना शुरू की गई है। योजना को लेकर शहरी क्षेत्र के कुल 756 वेंडरों का सर्वे किया गया है। इसमें से 226 वेंडरों के लिए लोन प्रस्तावित किया गया है। मंगलवार तक कुल 82 वेंडरों के बीच योजना के तहत मिलने वाले 10 हजार रुपए का लोन दे दिया गया। बता दें कि बैंक के साथ समन्वय स्थापित कर लोन देने की व्यवस्था शुरू की गई है। लोन की राशि सीधे लाभान्वित के बैंक खाते में ट्रांस्फर किया जा रहा है। इस योजना का लाभ सड़क पर घूम-घूमकर या छानकर दुकान सजाने वाले वेंडरों को ही दिया जा रहा है। लोन के लिए आवेदन की प्रक्रिया है शुरू| नगर परिषद की मिशन प्रबंधक अल्पना कुमारी ने बताया कि योजना का लाभ लेने के लिए नप कार्यालय में न्यू लोन की प्रक्रिया एवं न्यू फार्म या आवेदन भरा जा रहा है। योजना का लाभ लेने के लिए वेंडरों को नप कार्यालय में आधार कार्ड का फोटोकाॅपी, वोटर आई कार्ड का फोटोकाॅपी एवं बैंक खाता का फोटोकॉपी आवेदन के साथ जमा करना है। लोन की राशि उनके बैंक एकाउंट में भेज दी जाएगी। शेष बचे वेंडरों का भी हो रहा सर्वे| सर्वे के दौरान वैसे वेंडर, जिनका नाम नहीं जुड़ पाया था। विभिन्न वार्ड पार्षदों द्वारा भी अपने इलाके के वेंडरों को योजना के बारें में जानकारी दी जा रही है। इस मुहिम में नप की मिशन प्रबंधंक समेत, सुनिल कुमार तिवारी, कम्युनिटी आग्रेनाइजर नीलू श्रीवास्तव व सुनिता कुमारी की अहम भूमिका है।

आई र्कार्ड व प्रमाण पत्र देकर 400 से अधिक वेंडरों को किया गया वैध
योजना का लाभ अधिक से अधिक फुटपाथी विक्रेताओं को मिलें, इसके लिए किये गये सर्वे की सूची तैयार कर राज्य कार्यालय को भेजी गई थी। 756 वेंडरों को चिन्हित किया गया था। जिसके बाद 497 वेंडरों का आई कार्ड एवं 407 वेंडरों का प्रमाण पत्र निर्गत किया गया। मिशन प्रबंधंक अल्पना ने बताया कि आई कार्ड व प्रमाण पत्र प्राप्त करने वाले सभी वेंडर अब वैध हो चुके है। उन्हें सड़क पर दुकानदारी करने की पूरी मान्यता दे दी गई है।

वेंडिंग जोन बनने पर दिखेगा फायदा
मिशन प्रबंधंक ने बताया कि आई कार्ड व प्रमाण पत्र के लाभ का असर वेंडिंग जोन बनने के बाद दिखेगा। जल्द ही शहर के सीतायन होटल के करीब, दीपक स्टोर गली के करीब एवं पार्क रोड में वेंडिंग जोन बना दिया जाएगा। जिसके बाद उक्त सभी वेंडरों को जगह चिन्हित कर स्थायी बना दिया जाएगा। इसके बाद भविष्य में उन्हें सड़क पर दुकान सजाने को लेकर किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी। सभी वेंडर लीगल होल्डर हो जाएंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें