प्राथमिकी:दहेज को लेकर विवाहिता को प्रताड़ित कर घर से निकाला

सीतामढ़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पीड़िता के आवेदन पर थाने में प्राथमिकी दर्ज

दहेज को लेकर विवाहिता को प्रताड़ित कर घर से निकाल दिया गया है। मामले में पीड़िता के आवेदन पर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसके बाद पुलिस ने दो लोगों को पकड़ा है। भगवानपुर पिपराढ़ी गांव निवासी मुस्तकीम मंसूरी ने अपनी पुत्री रुकसाना खातून की शादी पूर्वी चंपारण जिला के पताही थाना अंतर्गत कोदरिया गांव के मोहम्मद अफरोज मंसूरी के साथ 2018 में हुई थी। शादी के कुछ माह पहले ससुराल वालों द्वारा 1 लाख 50 हजार रुपए एवं एक बाइक की मांग की जाने लगी। रुखसाना ने ससुराल वालों से कहा शादी के समय यथासंभव दान दहेज दिया गया था। अब पिता जी देने में असमर्थ है। इसी बात को लेकर पति अफरोज मंसूरी, देवर फिरोज मंसूरी, ससुर भोला मियां, सास सेहरा खातून, ननद खुशबू निशा द्वारा मारपीट की गई।

सबने मिलकर गहने एवं कपड़े छीनकर घर से निकाल दिया। उसके बाद वह अपने पिता के घर आकर रह रही है। ससुराल वालों ने धमकी दी कि अगर घर में वापस आएगी तो जलाकर मार दूंगा। दहेज नहीं दिया गया, तो फिर वापस मत आना। इस बीच पुलिस ने थाना में प्राथमिकी दर्ज कर ली है। पुअनि. रणविजय सिंह ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नामजद अभियुक्त फिरोज मंसूरी एवं खुशबू निशा को कोदरिया गांव से गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही दोनों को जेल भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...