पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भारत-नेपाल बॉर्डर को खोले जाने की मांग:नेपाल बॉर्डर खोलने के लिए गंडक बराज पर उमड़े व्यापारी

वाल्मीकिनगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बॉर्डर खोलने को एसएसबी से वार्ता करते वाल्मीकिनगर के व्यापारी। - Dainik Bhaskar
बॉर्डर खोलने को एसएसबी से वार्ता करते वाल्मीकिनगर के व्यापारी।
  • कोरोना काल में लगातार बंद है इंडो-नेपाल बॉर्डर

वाल्मीकिनगर स्थित गंडक बराज के एक नंबर फाटक के पास शनिवार को बड़ी संख्या में भारतीय क्षेत्र के व्यापारियों का एक समूह जुट आया। ये व्यापारी एसएसबी अधिकारियों से भारत-नेपाल बॉर्डर को खोले जाने की मांग कर रहे थे। लोगों की जुटी हुई भीड़ को देखते हुए एसएसबी 21वीं वाहिनी के सहायक कमांडेंट देवेंद्र उपाध्याय ने अपने जवानों को अलर्ट करते हुए एक नंबर फाटक पर चौकसी बरतने का निर्देश दिया।

बता दें कि 26 जनवरी से ही बॉर्डर खोले जाने का आदेश पारित किया गया था। इसके लिए कस्टम ने आवश्यक प्रक्रिया भी पूरी कर ली थी। कस्टम सुपरिटेंडेंट अनुज कुमार राज ने पुनः आदेश दिया कि अगले आदेश तक कस्टम कार्यालय में कार्य नहीं हो पाएगा। इसके बाद व्यापारियों के बीच आशंका गहराई कि एसएसबी के तरफ से बॉर्डर खोलने में अवरोध उत्पन्न किया जा रहा है।

सहायक कमांडेंट ने व्यापारियों को आश्वस्त किया कि उनका व्यापारियों के साथ सकारात्मक भाव है। व्यापारियों की मांग से वरीय अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा। आदेश मिलते ही बॉर्डर खोल दिया जाएगा। उन्होंने व्यापारियों को बताया कि यह मामला केंद्रीय गृह मंत्रालय से संबंधित है। जब तक भारत सरकार के गृह मंत्रालय से एसएसबी के बड़े अधिकारियों को आदेश नहीं दिया जाएगा तब तक बॉर्डर नहीं खुल सकता है।

ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से समाजसेवी अमित कुमार चितरंजन कुमार सिंह सुमन कुमार विजय कुमार शशि कुमार के अलावा अन्य व्यापारी शामिल रहे। भारतीय क्षेत्र के व्यापारियों ने कहा कि कोरोना काल के दौरान बॉर्डर लगातार बंद रहने से उनका कारोबार गंभीर रूप से प्रभावित हुआ है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें