मांग:रसोइया हत्याकांड में शिक्षकों को फंसाने का आरोप, जांच की मांग

बिहारशरीफ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसपी से मिलने गये शिक्षक नेता। - Dainik Bhaskar
एसपी से मिलने गये शिक्षक नेता।

बिहार अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिला शाखा के पदाधिकारियों ने मंगलवार को एसपी से मिलकर ज्ञापन सौंपा। शिक्षक नेताओं ने हिलसा में बीते 26 अप्रैल को रसोईया सुनीता देवी की हत्या में स्कूल के एचएम नृपेन्द्र कुमार सिन्हा और शिक्षक रामाधार सिंह को झूठे आरोप में फंसाये जाने का आरोप लगाते हुए जांच और जांच पूरी होने तक गिरफ्तारी पर रोक की मांग की। शिक्षक नेताओं ने इन्ही मांगो को लेकर डीएम को भी ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में कहा गया है कि मध्य विद्यालय मई में घटना के समय शिक्षण कार्य चल रहा था। जैसे ही हत्या कि यह घटना घटी वैसे ही वहां के एचएम ने बिना देर किये थानाध्यक्ष को सूचना दी। थानाध्यक्ष भी तुरंत मौके पर आये और एचएम व अन्य शिक्षकों से घटना के संबंध में जानकारी ली। आक्रोशित ग्रामीणों को समझाबुझाकर शव को कब्जे में लिया। शिक्षक नेताओं ने आरोप लगाया है कि घटना के अगले ही दिन कुछ अज्ञात लोग विद्यालय पहुंचे थे और एचएम व शिक्षक से मिलकर मामले को रफा दफा करने के लिए राशि की मांग की थी। उनकी मांग पूरी करने इंकार करने पर देख लेने व फंसा देने की धमकी दी गयी थी। शिक्षक नेताओं ने कहा कि एक सोची समझी साजिश के तहत मृतका के पुत्र ने एचएम और वरीय सहायक शिक्षक को हत्या का षड्यंत्र रचने का आरोपित किया है। शिक्षक संघ ने जांच पूरी होने तक गिरफ्तारी पर रोक लगाने की मांग की है। प्रतिनिधिमंडल में जिलाध्यक्ष संजय कुमार सिन्हा, अंचल सचिव अवधेश कुमार के अलावा उमवि टांड़ापर के प्रभारी प्रधानाध्यापक जितेन्द्र कुमार, उमवि कामता के प्रधानाध्यापक संजय कुमार, मवि गोखुलचक मिलकी पर के शिक्षक इन्द्रदेव पासवान शामिल थे।

खबरें और भी हैं...