बेखौफ अपराधी:बदमाशों ने पिटाई के बाद युवक काे जिंदा बालू में गाड़ा, बच निकला

बिहारशरीफ6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में जख्मी नीरू। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में जख्मी नीरू।
  • दीपनगर के देवधा गांव की घटना, चबूतरा पर सोने को लेकर हुआ था विवाद, नींद में ही युवक को बदमाश उठाकर नदी किनारे ले गए थे

दीपनगर थाना क्षेत्र के देवधा गांव में मामूली विवाद में शुक्रवार की रात बदमाशों ने एक युवक को पहले कुल्हाड़ी से जख्मी कर दिया, फिर उसे अचेतावस्था में ही मृत समझकर पंचाने नदी के किनारे बालू में दफन कर दिया। युवक जिंदा था इसलिए कुछ समय के बाद उसने बाहर आने के लिए प्रयास शुरू किया और अपने ऊपर से बालू हटाकर बाहर निकला। उसकी जान बच गई। इसके बाद वह अपने घर पहुंचा और परिवार काे आपबीती सुनाई। मानपुर थाना क्षेत्र के धासपुर गांव निवासी 19 वर्षीय नीरू मांझी को उसके परिजन इलाज के लिए सदर अस्पताल लाए,जहां उसका इलाज किया गया। युवक अपने मौसा कारू मांझी के घर आया था, जहां घटना हुई। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपित रामप्रीत मांझी को गिरफ्तार कर लिया।

चार बदमाशों पर प्राथमिकी दर्ज, मुख्य आरोपित गिरफ्तार, अन्य की तलाश

जख्मी नीरू ने बताया कि वह मौसा के घर आया था। शाम में उसका मौसेरा भाई घर नहीं लौटा था। इस कारण वह उसकी तलाश में निकल गया। रात में गांव के चबूतरे पर वह सोया था। उसी दौरान रामप्रीत मांझी अपने सहयोगियों के साथ पहुंचकर चबूतरे पर सोने का विरोध करने लगा। कहासुनी हुई। ग्रामीणों ने शांत कराया। देर रात युवक गहरी नींद में था। उसी दौरान बदमाश उसे उठाकर नदी किनारे लेकर चले गए। बदमाशों ने कुल्हाड़ी से काट युवक को जख्मी कर दिया। जिससे वह अचेत हो गया। इसके बाद बदमाशों ने उसे जिंदा बालू में गाड़ दिया। किसी तरह युवक गड्‌ढ़े से बच निकला। थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि चार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। एक पकड़ा गया है। छापेमारी जारी है।

खबरें और भी हैं...