नालंदा में सीएम नीतीश का ड्रीम प्रोजेक्ट होगा पूरा:अगले सप्ताह से राजगीर के घरों में मिलेगा गंगाजल, मंत्री संजय झा ने किया निरीक्षण

नालंदा2 महीने पहले

बिहार के लाखों लोगों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक ड्रीम प्रोजेक्ट के पूरा होने से अब सालों भर गंगाजल सुलभता से मिलना शुरू हो जाएगा। दुनिया का धार्मिक और ऐतिहासिक मानचित्र पर विशिष्ट पहचान रखने वाले गया, नालंदा और नवादा जिलों में पहली बार गंगाजल की आपूर्ति सुनिश्चित होने जा रही है।

सीएम नीतीश कुमार के इस ड्रीम प्रोजेक्ट हर घर गंगाजल के तहत बिहार तीन स्थानों गया, बोधगया और राजगीर में इसी महीने से प्यूरीफाइड गंगाजल की सप्लाई होगी। गौरतलब है कि भले ही गंगा बिहार से होकर बहती हो लेकिन भौगोलिक स्थिति के कारण गंगा का पानी दक्षिण बिहार में पहुंच नहीं पाता है। इस समस्या को दूर करने के लिए एक दुर्लभ अवधारणा और भारत में अपनी तरह की पहली परियोजना शुरू की गई।

यहां बारिश के मौसम के दौरान अतिरिक्त नदी के पानी को जलाशयों में संग्रहित किया जाएगा और साल के 365 दिनों तक लोगों को पीने योग्य पानी की आपूर्ति की जाएगी। बिहार सरकार की योजना जल जीवन हरियाली के तहत ये देश की पहली ऐसी योजना होगी जिसमें बाढ़ के पानी को विशाल जलाशयों में चार महीनों में भंडारण किया जाएगा और बाद में पेयजल के लिए उपलब्ध कराया जाएगा।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नवम्बर 27 को राजगीर में, नवम्बर 28 को गया और बोधगया मे परियोजना का उद्घाटन करेंगे। विश्व स्तर पर धार्मिक महत्व वाले तीन शहरों में इस परियोजना का पहला चरण शुरू किया जा रहा है। इन क्षेत्रों मे बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं, जिसके परिणामस्वरूप पानी की उच्च मांग होती है।

परियोजना पहले चरण में राजगीर, गया और बोधगया शहरों में संग्रहित पानी को प्यूरीफाईड करके पेयजल हेतु आपूर्ति करके इस योजना की शुरुआत की जाएगी। बुधवार को बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने स्थलों का निरीक्षण कर शेष बचे कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश अधिकारियों को दिया।