टीचर ने सोनू सूद से मांगी मदद, मिला धोखा:नालंदा में बीमार शिक्षक ने किया ट्वीट; एक्टर का मैनेजर बताकर भेजा लिंक, उड़ाए पैसे

नालंदा5 महीने पहले

नालंदा में एक शिक्षक ने अभिनेता सोनू सूद से ट्विटर पर मदद मांगी थी। इसके बाद उसे एक नंबर से कॉल आया। उसने खुद को सोनू का मैनेजर बताया और वॉट्सऐप पर एक लिंक भेजी। इस लिंक को खोलकर 1 रुपए भेजने को कहा। जैसे ही शिक्षक के परिवार ने 1 रुपए भेजे। उसने खाते में पड़े 2 हजार रुपए साफ कर दिए।

शिक्षक शुभम कुमार पिछले 1 साल से जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं। साल 2021 में कोरोना संक्रमित होने के बाद उनका फेफड़ा पूरी तरह से संक्रमित हो गया है। ट्रांसप्लांट के लिए चेन्नई के एमजीएम हेल्थकेयर ने उनसे 45 लाख रुपए मांगे। तब से वह ऑक्सीजन सपोर्ट पर बिहारशरीफ में किराए के मकान पर रह रहे हैं।

पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए...

अपने इलाज के लिए वह राष्ट्रपति प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री तक को गुहार लगा चुके है पर किसी ने उनकी सुध नहीं ली। मदद की आस में बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद को ट्वीट कर उनसे इलाज की गुहार लगाई थी।

शिक्षक को अभिनेता सोनू सूद से मदद मांगना महंगा पड़ गया। साइबर ठगों ने खुद को सोनू सूद का मैनेजर बताकर उनके एकाउंट से 2 हजार रुपए उड़ा लिए। मामला नगर थाना इलाके के द्वारिका नगर मोहल्ले का है।

शिक्षक को इलाज के लिए 45 लाख रुपए की जरूरत है।
शिक्षक को इलाज के लिए 45 लाख रुपए की जरूरत है।

शनिवार की देर शाम उनके मोबाइल पर किसी अनजान शख्स ने फोन कर अपने आप को सोनू सूद का मैनेजर बताया और उन्हें एक लिंक भेज कर रजिस्ट्रेशन करने को कहा।

उन्हें शक हुआ तो 2 हजार रुपए छोड़कर उन्होंने अकाउंट में पड़े 18 हजार रुपए भाई के खाते में डाल दिए। इसके बाद उन्होंने लिंक डाउनलोड की और रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया की। कुछ देर बाद उनके खाते से 2 हजार रुपए साफ हो गए।

पीड़ित की मां की माने तो उनका पुत्र जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहा है। हर दिन 4 घंटे ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखना पड़ता है। बेटे के इलाज के लिए अपना खेत तक बेच चुके हैं।

खबरें और भी हैं...