नालंदा में विवाहिता की हत्या:परिजन बोले- ससुराल वालों लगातार प्रताड़ित करते थे, जहर देकर मार डाला

नालंदा2 महीने पहले
परिजनों ने न्याय की गुहार लगाई।

नालंदा जिला अंतर्गत रहुई थाना क्षेत्र के भदवा इतासंग गांव में मंगलवार को एक विवाहिता को जहर देकर हत्या कर देने का मामला सामने आया है। मृतका अरुणेश प्रसाद की (32) वर्षीया पत्नी कुसुम देवी है। हालांकि मृतका का पति खुद से जहर खा आत्महत्या की बात बता रहा है। मामले पर मृतका की भाभी बेबी देवी ने बताया की आज सुबह ननद कुसुम देवी का फोन आया कि आप मेरे बच्चों को ठीक से परवरिश कर दीजिएगा क्योंकि अब मैं नहीं रहूंगी। इसके बाद मां से बात हुई तो वही बात दोहराई गई।

मृतका की भाभी ने बताया कि उसका पति, ननद और सास अक्सर यह आरोप लगाती थी। की देवर के साथ चक्कर चल रहा है। यही आरोप लगा कर अक्सर उसे प्रताड़ित करने का काम किया जाता था। कई मर्तबा ससुराली परिवार को समझाया बुझाया भी गया। बावजूद प्रताड़ना कम नहीं हुई। और अंततः आज ससुराली परिवार ने जहर देकर विवाहिता की हत्या कर दी।

वहीं पति अरुणेश प्रसाद ने बताया कि वह बाजार से घर आया तो देखा कि पत्नी जमीन पर पड़ी हुई है और मुंह से झाग निकल रहा है हाथ में एक पुड़िया था। जिसमें कीटनाशक दवाई थी आनन-फानन में उसे गांव के ही एक डॉक्टर के पास ले जाया गया। जहां से उसे रेफर कर दिया गया। जिसके बाद बिहार शरीफ सदर अस्पताल लाया गया जहां इलाज के दौरान मौत हो गई। मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पति को हिरासत में लेते हुए शव को पोस्टमार्टम कराने की प्रक्रिया में जुट गई है।

महिला ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।
महिला ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

8 साल पूर्व कुसुम देवी की शादी अरुणेश कुमार के साथ हुई थी। जिससे तीन बच्चे हैं फिलहाल बच्चे अभी अपने घर में ही हैं। वहीं सदर अस्पताल आए मायके के परिजनों के चीत्कार से अस्पताल परिसर गमगीन हो गया है। पुलिस अभिरक्षा में मायके वालों ने पति के साथ धक्का-मुक्की भी की। हालांकि पुलिस ने बीच बचाव कर झगड़ा शांत कराया। रहुई थाना अध्यक्ष ने बताया कि अभी तक मायके वालों के द्वारा आवेदन नहीं दिया गया है। जो भी आवेदन प्राप्त होगा। उस पर जांच उपरांत कड़ी कार्यवाही की जाएगी। जहर देकर हत्या का आरोप मायके वाले लगा रहे हैं वहीं पति आत्महत्या की बात बता रहा है।

खबरें और भी हैं...