CM के सामने आया मासूम, बोला- सर, पढ़ाई करवा दीजिए:अपने गांव पहुंचे नीतीश को रोककर बच्चा बोला- पापा रोज दारू पीते हैं...

नालंदा8 दिन पहले

शनिवार को CM नीतीश कुमार पत्नी की पुण्यतिथि पर अपने गांव कल्याण बीघा पहुंचे थे। अचानक उनके सामने अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई। एक 11 साल का बच्चा हाथ जोड़कर उनके सामने गुहार लगाने लगा। 6वीं क्लास में पढ़ने वाले बच्चे ने मुख्यमंत्री से सरकारी स्कूल की जगह प्राइवेट स्कूल में एडमिशन कराने की गुहार लगाई और बोला, 'सर! पापा दही बेचकर शराब पी जाते हैं। मेरा एडमिशन करा दीजिए।'

दरअसल, CM नीतीश कुमार की पत्नी की 16वीं पुण्यतिथि है। इस दौरान मुख्यमंत्री अपने गांव पहुंचे और पत्नी को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने लोगों की समस्याएं भी सुनी। उसी दौरान हरनौत के नीमाकौल के 6 क्लास का छात्र सोनू कुमार भी अपनी समस्या को लेकर सोनू पहुंचा था। उसने CM से हाथ जोड़ कर कहा, 'सर! सुनिए न प्रणाम… भीड़ से आई बच्चे की आवाज सुनकर नीतीश कुमार भी चौंक गए। CM पीछे मुड़े और सोनू की समस्या सुनी।

'पिता दही बेचकर शराब पी जाते'

सोनू का कहना है कि उसके पिता रणविजय यादव दही बेचने का काम करते हैं। उसी कमाई का रुपए से शराब पी जाते हैं। गरीब परिवार से होने के कारण मध्य विद्यालय नीमा कौल के सरकारी स्कूल में पढ़ता है। जहां शिक्षकों को भी अच्छी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने नहीं आता है।

मुख्यमंत्री को अपनी समस्या बताता स्टूडेंट।
मुख्यमंत्री को अपनी समस्या बताता स्टूडेंट।

40 बच्चों को ट्यूशन पढ़ता सोनू

सोनू ने कहा, 'पापा शराब पीते हैं, मैं जो पढ़ाकर पैसा लाता हूं, वो सब खत्म हो जाता है, सरकारी स्कूल में सर को कुछ नहीं आता है। अगर सरकार हमें मदद करे तो मैं भी पढ़ लिखकर IAS-IPS बनना चाहता हूं।' सोनू 5वीं कक्षा तक के 40 बच्चों को शिक्षा देकर अपनी पढ़ाई का खर्च निकालता है। वहीं, इस छोटे से बच्चे के हिम्मत को देखकर अधिकारी से लेकर नेता तक दंग रह गए। बच्चे की बात सुन मुख्यमंत्री ने तुरंत अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

पत्नी की 16वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।
पत्नी की 16वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।