नालंदा में बीएड के नवागंतुक छात्रों का स्वागत:कुलपति बोले- कर्तव्यनिष्ठा और ईमानदारी से अपना काम करें

नालंदा3 महीने पहले

नालन्दा में स्थित महाबोधि महाविद्यालय बीएड डीएलएड में आज 2022 - 2024 के नवागंतुक प्रशिक्षणार्थी छात्रों का स्वागत एवं शैक्षिणिक सत्र 2019 - 21 एवं 2020 - 22 के छात्रों का सम्मान समारोह का आयोजन शनिवार को किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि नव नालन्दा महाविहार के कुलपति प्रो. बैद्यनाथ लाभ एवं अनुमंडल पदाधिकारी अनिता सिंह ने संयुक रूप से दीप प्रज्वलित कर समारोह की शुरुआत किया।

इस मौके पर महाविद्यालय के छात्रों ने स्वागत गीत के माध्यम से आगन्तुको का स्वागत किया।विद्यालय परिवार की ओर से सभी मुख्य अतिथि को गुलदस्ता व शाल भेंट कर सम्मानित किया गया।इस मौके पर छात्रों का हौसला अफजाई करते हुए कुलपति प्रो. बैद्यनाथ लाभ ने कहा कि कर्त्तव्य निष्ठा और ईमानदारी जिस भी क्षेत्र में हैं। उसका निर्वहन करने की जरूरत है। तभी हम आगे बढ़ सकते हैं।

आप भविष्य के शिक्षक हैं,आपको अभी ज्ञान अर्जन करने की जरूरत है। जबतक ज्ञान नही होगा आप कुशल शिक्षक नही बन सकेगें। कभी भी अज्ञानी व्यक्ति समाज को शिक्षा नही दे सकते हैं। किसी भी बच्चे की प्रथम शिक्षिका मां होती है।निरक्षरता से साक्षरता की ओर बढ़ता है तो उसकी जिम्मेदारी शिक्षक का ही होता है।

इस अवसर पर अनुमंडल पदाधिकारी अनिता सिन्हा ने सभी प्रशिक्षु छात्रों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि आपलोग दो बातें हमेशा याद रखें। कर्तव्य निष्ठा और ईमानदारी। तभी हमलोग आगे बढ़ सकते हैं।आपलोग को चाहिये कि जो भी प्रशिक्षण महाविद्यालय में सिखाया गया है। उसे अच्छी तरह से सीखें। हमलोग अपने ज्ञान को किस प्रकार समाज मे फैलाये यह जरूरी है। आपका ज्ञान समाज को दशा और दिशा दिखायेगा।

मौके पर सभी प्रशिक्षु को महाविद्यालय के द्वारा किट मुहैया कराया गया। वहीं पूर्व के शैक्षणिक सत्र के अब्बल छात्र छात्रओं को सम्मानित किया गया है। इस अवसर पर महाविद्यालय के सचिव अरविंद कुमार, त्रिनयन कुमार,सामाजिक कार्यकर्ता राजेन्द्र प्रसाद,प्राचार्य दीपक शर्मा,मनोज कुमार सिंह, सुग्रीव कुमार,ककुसुमलता,निष्ठानंदनी,धर्मवीर प्रसाद,संजीत कुमार,अमरजीत कुमार,रवि आनंद सहित समस्त शिक्षक गण एवं छात्र छात्राए मौजूद थे।