गिरफ्तारी:लूट के बाद शादी के फेरे लेने पहुंचा लुटेरा गिरफ्तार

नवादाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विदाई के तुरंत बाद लग गई हथकड़ी, शादी से पहले ताबड़तोड़ दो लूट के वारदातों को दिया अंजाम

जिले के नेशनल हाईवे 130 पर फुलमा के पास माइक्रो फाइनेंस कंपनी से लूट के बाद कुख्यात लुटेरा निरंजन आराम से शादी कर रहा था। हालांकि उसकी खुशी ज्यादा देर तक नहीं रही और दुल्हन को विदा करके लौटते समय रास्ते में ही पुलिस ने उसे दबोच लिया। बता दें कि बीते 13 मई को अकबरपुर के फुलवा और छः माइल के बीच सड़क लुटेरों ने माइक्रो फाइनेंस कंपनी के मैनेजर को हथियार के बल पर लूट लिया था। मैनेजर से एक लग 80 हजार की लूट की गई थी। इस मामले में अनुसंधान कर रही पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया। पांच में से चार आरोपी एक ही गांव गया जिले के परैया थाना के प्राणपुर के निवासी हैं। इन चारों में से एक निरंजन कुमार एक दिन पहले ही दूल्हा बना है।

उसकी शादी औरंगाबाद जिला के रफीगंज थाना क्षेत्र के खैरी मुड़ला गांव मैं हुई है। वहां से लौटने के दौरान ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। बताया जाता है कि अब दुल्हन शादी तोड़ना चाह रही है। शातिर लुटेरा निरंजन शादी से पहले अमीर बनना चाहता था। इसी चाहत में उसने शादी से ठीक पहले 8 दिन के भीतर लूट की दो बड़ी घटनाओं को अंजाम दे दिया। पहले उसने नवादा में माइक्रो फाइनेंस कंपनी के मैनेजर की रेकी करके लूट की बड़ी घटना को अंजाम दिया और इसके बाद गया में स्टेट बैंक की शाखा में लूट की घटना को अंजाम दिया। इन घटनाओं को अंजाम देने के बाद वह बारात लेकर शादी करने पहुंचा था।

शादी तोड़ना चाह रही दुल्हन
पुलिस ने लूटेरा रंजन को गिरफ्तार किया तो हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। पुलिस ने दुल्हन को वापस उसके मायके पहुंचाया। उग्र ग्रामीणों ने दूल्हे निरंजन के बहनोई को बंधक बना लिया। दूल्हे के आपराधिक गतिविधियों को देखते हुए परिजन शादी तोड़ने पर भी विचार कर रहे हैं। दुल्हन अब रिश्ता तोड़ने पर आमदा है। वह किसी भी सूरत में इस रिश्ता को मंजूर नहीं करना चाहती बोली हम लूटेरा और अपराधी के साथ जिंदगी नहीं गुजार सकते।

खबरें और भी हैं...