नवादा में सुनहरे रेत उठाव के वर्चस्व में गोलीबारी:नदी घाट के बवाल में घंटों गूंजता रहा इलाका, दो पोकलेन मशीन भी जलाया

नवादा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गोलियां चलने से आसपास के निवासियों में दहशत है। - Dainik Bhaskar
गोलियां चलने से आसपास के निवासियों में दहशत है।

नवादा के दौलतपुर स्थित बालू घाट से सुनहरे रेत पर वर्चस्व और कब्जे को लेकर एक बार फिर बंदूकें गरजने लगी है। गोलियों की तड़तड़ाहट के बीच नदी घाट का सुनहरा रेत कब लाल रेत में परिवर्तित हो जाय कहना मुश्किल है। करीब महीने भर से चल रहा वर्चस्व की लडाई मे एकबार फिर दो पक्षों के बीच बालू घाटों पर कब्जा और सुनहरे रेत को लेकर एकबार फिर घंटों गोलियां चलने की जानकारी प्राप्त हो रही है।

गोलियां चलने से आसपास के स्थल पर निवास करने बाले लोगों में दहशत है। सूचना मिलने पर प्रशासन जागी है और घटना स्थल पर पहुंच जांच में जुटी है। गांववालों की मानें तो विगत दो सप्ताह से दौलतपुर बालू घाट में अक्सर गोलियों की तड़तड़ाहट सुनाई देती रही थी। इस बीच एकबार फिर काफी देर तक गोलीबारी की वारदात हुई। इसके साथ हीं बालू घाट पर चल रहे दो पोकलेन मशीन को भी जला दिया गया है।

स्थानीय लोगों की मानें तो नवादा जिला के सीमावर्ती व गया जिला अंतर्गत नदी घाट में एकलव्य व चुनचुन कुमार संवेदक के रुप में है। दोनों के क्षेत्रों का सीमांकन व बालू उठाव के वर्चस्व को लेकर गोलीबारी की घटना हुई है। हालांकि इस मामले पर स्थानीय थाना प्रभारी ने कहा कि यह जिला का मामला नहीं है। ऐसी कोई जानकारी नहीं है।