• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • 15 To 18 Year Old Children Got 39% Vaccination, Worrying About The Preparation Dose

वैक्सीनेशन में टॉप 5 राज्यों में चौथे नंबर पर बिहार:15 से 18 साल के बच्चों ने 39% कराया वैक्सीनेशन, प्रिकॉशन डोज वाले बढ़ा रहे चिंता

पटना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि बिहार वैक्सीनेशन में देश के टॉप 5 राज्यों में चौथे स्थान पर है। इस दावे के बाद भी चिंता प्रिकॉशन डोज को लेकर है। राज्य में 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले गंभीर रूप से बीमार लोगों ने सरकार की चिंता बढ़ाई है। महज 16 प्रतिशत 60 प्लस के लोग ही सुरक्षा का तीसरा डोज लगवाएं हैं। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि वैक्सीनेशन में तेजी लाने को लेकर हर स्तर पर काम किया जा रहा है।

जानिए वैक्सीनेशन की रफ्तार
बिहार में 15 से 18 वर्ष में 3361789 ने वैक्सीनेशन कराया जो 39% है। वहीं, हेल्थ केयर वर्कर में प्रिकॉशन डोज के लिए कुल लक्ष्य 3.24 लाख हैं जिसमें 1.77 लाख का वैक्सीनेशन हुआ है जो 54% है। प्रिकॉशन डोज में ही फ्रंटलाइन वर्क के कुल लक्ष्य 1.76 लाख में महज 78 हजार लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है जो 44% है। इसी तरह प्रिकॉशन डोज में 60 प्लस के कईमॉरबिड (Comorbid) यानी इस उम्र के साथ बीमार लोगों का महज 16% ही वैक्सीनेशन हुआ है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि कोरोना के संक्रमण में वैक्सीन का प्रभाव हर किसी को साफ नजर आया है। ऐसे में वैक्सीन के महत्व को समझना चाहिए और कोरोना की लड़ाई में वैक्सीन हर किसी को लेना चाहिए।

राज्य में 9 हजार सेशन पर वैक्सीनेशन
स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक राज्य में 9 हजार से अधिक सेशन पर वैक्सीनेशन का काम किया जा रहा है। कोरोना की लड़ाई में वैक्सीनेशन को हथियार के रूप में प्रयोग किया जा रहा है। कोरोना की तीसरी लहर में वैक्सीनेशन का महत्व समझने के बाद लोग वैक्सीन के लिए आगे आ रहे हैं। अब तक राज्य में कुल 10,91,63,195 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है जिसमें पहला डोज लेने वालों की संख्या 6,31,62,463 है जबकि 4,56,64,295 लोगों ने दूसरी डोज ली है। वहीं प्रिकॉशन डोज लेने वालों की कुल संख्या 3,36,437 हो गई है।

खबरें और भी हैं...