• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • 1516 Covid Dedicated Beds Are Being Prepared For Children In Bihar, Big Preparations Regarding The Danger Of Third Wave

बिहार में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी:बच्चों के लिए तैयार हो रहे 1516 कोविड डेडिकेटेड बेड, 456 हाइब्रिड ICU के साथ 1060 ऑक्सीजन वाले बेड

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्र से मंजूरी मिलने के बाद राज्य सरकार डेडिकेटेड कोविड बेड तैयार करने में जुट गई है। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
केंद्र से मंजूरी मिलने के बाद राज्य सरकार डेडिकेटेड कोविड बेड तैयार करने में जुट गई है। (फाइल फोटो)

बिहार सरकार कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी कर रही है। इसके लिए बच्चों के 1516 डेडिकेटेड कोविड बेड तैयार किए जा रहे हैं। इसमें 456 हाइब्रिड ICU और 1060 ऑक्सीजन वाले बेड शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए बच्चों के लिए बिहार में करीब 1516 कोविड डेडिकेटेड बेड बनाए जाएंगे।

बिहार सरकार ने केंद्र को बच्चों के डेडिकेटेड बेड को लेकर प्रस्ताव भेजा था, जो मंजूर हो गया है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि केंद्र सरकार से राज्य सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद राज्य स्वास्थ्य समिति ने BMICL को निविदा निकालकर आगे की कार्रवाई करने को कहा है, ताकि तय समय पर राज्य के सभी सरकारी अस्पतालों में बेड तैयार किया जा सकें।

मार्च तक पूरा हो जाएगा काम
स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि मार्च 2022 तक बच्चों के डेडिकेटेड बेड की व्यवस्था पूरी हो जाएगी। राज्य के सभी जिलों में कोविड डेडिकेटेड बेड लग जाने से आपात स्थिति में ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को राहत मिलेगी। मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि प्रखंड, अनुमंडल और सदर अस्पताल से लेकर मेडिकल कॉलेजों में संसाधनों को बढ़ाया जा रहा है। कोविड डेडिकेटेड बेड बनने के बाद इसके संचालन को लेकर भी अस्पताल प्रबंधन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया जाएगा।

ऐसी होगी व्यवस्था

  • 1516 बेड की हो रही है व्यवस्था
  • 30 जिलों में 42-42 बेड बनाए जाएंगे
  • 8 जिलों में 32-32 बेड की व्यवस्था होगी
  • 456 हाइब्रिड आईसीयू बेड की तैयारी है
  • 1060 ऑक्सीजनयुक्त बेड बनाए जा रहे हैं
  • कुछ बेड हाई डिपेंडेंसी से युक्त होंगे
खबरें और भी हैं...