67वीं BPSC-PT आज:38 जिलों के 1083 केंद्रों पर परीक्षा; असम, यूपी, एमपी, बंगाल, झारखंड से भी पहुंचे अभ्यर्थी

बिहार2 महीने पहले

बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) की 67वीं PTआज हुई। BPSC PT की परीक्षा देने बड़ी संख्या में बिहार के बाहर के युवा भी पहुंचे। इसमें दिल्ली, असम, यूपी, एमपी, बंगाल, झारखंड आदि राज्यों से अभ्यर्थी बिहार आए। राज्य के सबसे बड़े परीक्षा सेंटर ए.ए. कॉलेज सेंटर पर पुहंचे परीक्षार्थियों से भास्कर ने बात की। बातचीत में परीक्षार्थियों ने कहा कि इस बार सीटें ज्यादा हैं और अभ्यर्थियों की संख्या भी। सभी को यही उम्मीद है कि इस बार एग्जाम टफ होगा

आयोग के संयुक्त सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेन्द्र कुमार ने बताया कि इस बार 6.02 लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा फार्म भरा है। अब तक हुई BPSC PT परीक्षाओं में यह सर्वाधिक आंकड़ा है। लगभग चार लाख (दो तिहाई) अभ्यर्थियों के परीक्षा में शामिल होने की संभावना है। पटना सहित बिहार के सभी 38 जिलों के 1083 केंद्रों पर BPSC यह परीक्षा लेगी।

बेतिया में परीक्षा केंद्र के बाहर इंतजार करते परीक्षार्थी।
बेतिया में परीक्षा केंद्र के बाहर इंतजार करते परीक्षार्थी।

अपना कॉन्फिडेंस लेवल हाई रखें

BPSC परीक्षा की तैयारी वर्षों से करा रहे गुरु रहमान कहते हैं कि अब फाइनल टच देने का समय है। इसलिए कुछ भी नया पढ़ने का खतरा न उठाएं, कन्फ्यूजन होगा। दिमागी रूप से आश्वस्त रहें कि आपने अच्छी तैयारी की है और परीक्षा अच्छी जाएगी। मन से भय को निकाल दें नहीं तो परीक्षा केंद्र पर नर्वस हो जाएंगे और पढ़ा हुआ सवाल भी गलत कर बैठेंगे। अपना कॉन्फिडेंस लेवल हाई रखें।

मोतिहारी में परीक्षा केंद्र के बाहर बैठे परीक्षार्थी।
मोतिहारी में परीक्षा केंद्र के बाहर बैठे परीक्षार्थी।

अभ्यर्थी इन बातों का रखें खास ध्यान-

  • प्रवेश पत्र पर अति आवश्यक निर्देश और ओएमआर आंसर शीट पर अंकित सभी निर्देशों को उम्मीदवार ध्यान से पढ़ लें और उसका ठीक से पालन करें।
  • अभ्यर्थी परीक्षा शुरू होने के एक घंटा पहले अपने निर्धारित परीक्षा केन्द्र पर पहुंच जाए। पटना, गया, मुजफ्फरपुर, आरा आदि जगहों पर ट्रैफिक जाम की समस्या रहती है इसलिए उसी अनुसार घर से निकलें।
  • परीक्षा प्रारंभ होने के बाद किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षा शुरू होने के समय का ध्यान रखें। परीक्षा 12.00 बजे दोपहर से 2.00 बजे दोपहर तक हुई। इसके लिए 11.00 बजे से इंट्री शुरू हो गई थी।
  • परीक्षा केन्द्र परिसर में मोबाइल, ब्लूटुथ, वाई-फाई गैजेट, इलेक्ट्रॉनिक पेन, पेजर, स्मार्ट वाच आदि इलेक्ट्रॉनिक सामग्री और व्हाइटनर, ब्लेड, इरेजर आदि सामग्री और अन्य किसी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक संचार उपकरण नहीं ले जा सकेंगे।
  • अभ्यर्थियों को परीक्षा में साधारण कलाई घड़ी ले जाने की अनुमति आयोग ने दी है।
  • ओएमआर आंसर शीट में किसी प्रकार का चिह्न बनाना या रेखांकन न करें। दंडात्मक कार्रवाई की जा सकती है।
  • ओएमआर आंसर शीट में प्रश्न पुस्तिका सीरीज और रोल नंबर निर्धारित जगह पर भरते हुए गोला को सही तरीके से रंगना है, नहीं तो इसकी जांच नहीं होगी। गोला को काला या नीला बॉल पेन से रंगने का निर्देश है।
खबरें और भी हैं...