बिहार / टिड्डियों के नियंत्रण के लिए सभी जिलों को 5-5 लाख खर्च की अनुमति, 6 जिले हाई अलर्ट पर

देखते ही देखते फसलों को चट कर जाता है टिड्डियों का दल। देखते ही देखते फसलों को चट कर जाता है टिड्डियों का दल।
X
देखते ही देखते फसलों को चट कर जाता है टिड्डियों का दल।देखते ही देखते फसलों को चट कर जाता है टिड्डियों का दल।

  • नालंदा, पटना, जहानाबाद, वैशाली, बेगूसराय और पश्चिम चंपारण हाई अलर्ट पर
  • कृषि मंत्री ने कहा-अब तक किसी जिले से फसल नुकसान की खबर नहीं

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 07:45 PM IST

पटना. राज्य में टिड्डियों को नियंत्रित करने के लिए सभी जिलों को 5-5 लाख तक व्यय की अनुमति दी गई है। सभी जिला कृषि पदाधिकारियों को ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर्स, पवार स्प्रेयर्स, बूम स्प्रेयर्स व पंपसेट आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। साथ ही अग्निशमन कार्यालय के संपर्क में रहने का निर्देश दिया गया है। कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि फसल को टिड्डियों से बचाने के लिए सतर्क हैं। अब तक किसी जिले से फसल क्षति की सूचना नहीं है। नालंदा, पटना, जहानाबाद, वैशाली, बेगूसराय व पश्चिम चंपारण को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

मंगलवार को कृषि विभाग ने नालंदा के सहायक पौधा संरक्षण निदेशक ने सूचना दी है कि जहानाबाद की तरफ से नालंदा के एकंगरसराय व हिलसा की तरफ टिड्डियों के बड़े समूह को उड़ता हुआ देखा गया। यह दो दलों में बंटकर एक दल फिर जहानाबाद के बंधुगंज व मोहनपुर प्रखंड की ओर लौट गया। इस दल के जहानाबाद या पटना में रुकने की संभावना है। दूसरा दल नालंदा कराय परशुराय की तरफ से हरनौत की तरफ जाता दिखा। इस दल के पटना, वैशाली या बेगूसराय में रात में ठहरने की संभावना है।

शुक्रवार की रात जहानाबाद के मोहनपुर के मिर्जापुर गांव में पीपल व अन्य पेड़ों पर आश्रय लिया था। यहां कृषि विभाग के अधिकारियों व कर्मियों व अग्निशमन के संयुक्त दल ने मारा। पिछले तीन दिनों से पश्चिम चम्पारण में टिड्डियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इसमें काफी संख्या में टिड्डियां मारी गईं। शेष यूपी की सीमा में प्रवेश कर गई। मुजफ्फरपुर व खगड़िया में टिड्डियों के आक्रमण व बचाव पर मॉक ड्रिल किया गया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना