बेतिया में 10 की मौत, जहरीली शराब पीने की आशंका:7 लोगों की हालत गंभीर, परिजन बोले- गांव में ही इन लोगों ने पी थी देसी शराब

बेतिया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घटना के बाद गांव में लगी लोगों की भीड़। - Dainik Bhaskar
घटना के बाद गांव में लगी लोगों की भीड़।

बेतिया में 10 लोगों की संदिग्ध मौत हो गई है, जबकि 7 लोगों की हालत गंभीर है। आशंका है कि जहरीली शराब पीने से इनकी मौत हुई है। घटना नौतन थाना क्षेत्र के दक्षिणी तेलहुआ गांव की है। परिजनों का कहना है कि बुधवार शाम को इन लोगों ने गांव में देसी चुल्हाई शराब पी थी। देर रात तबीयत बिगड़ने लगी तो इलाज कराने अस्पताल में भर्ती करवाया। इनमें से 8 लोगों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों की ​​​​​​भीड़ लग गई। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस मामले में छानबीन में जुट गई है। चंपारण रेंज के डीआईजी प्रणव कुमार प्रवीण बेतिया डीएम कुंदन कुमार और एसपी उपेंद्र नाथ वर्मा पहुंच शराब से भरे सभी व्यक्तियों के परिजनों से मिले पर आश्वासन देने के बाद परिजनों ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

डीआईजी प्रणव कुमार प्रवीण ने बताया कि लोगों की मौत की सूचना मिली है। नौतन थाना पर कार्रवाई हो रही है। जो भी दोषी होंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा। DM कुंदन कुमार ने बताया कि 10 लोगों की मौत की सूचना मिली है। मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। मेडिकल टीम भेजकर जांच करवाई जा रही है।

परिजन बोले- हरिजन टोली गांव में शराब पी थी

मृत बच्चा यादव की पत्नी शैल कुमारी देवी ने बताया कि नौतन थाना क्षेत्र के दक्षिण तेलुआ पंचायत के हरिजन टोली गांव में बुधवार शाम शराब पी थी, जिसके बाद इनकी घर आने पर तबीयत खराब हो गई। जब हॉस्पिटल ले गया गया तो वहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया और बताया कि जहरीली शराब पीने से मौत हुई है।

आरोप- गांव के ही चौकीदार व दफादार शराब बेचवा रहे

परिजनों का आरोप है कि गांव के ही चौकीदार और दफदार द्वारा पैसा लेकर शराब बेचवाया जाता है। कभी भी पुलिस शराब कारोबारियों को नहीं पकड़ती है। अगर पुलिस शराब कारोबारियों को पकड़ी रहती तो यह घटना नहीं होती। परिजनों ने डीआईजी और डीएम से नौतन थाना पर करवाई करने का भी मांग की।

मौके पर रोते-बिलखते परिजन।
मौके पर रोते-बिलखते परिजन।

ग्रामीणों का कहना है कि बुधवार शाम को इन लोगों ने गांव में ही शराब पी थी। देर रात हालत बिगड़ी तो 8 को जीएमसीएच और 9 को जगदीशपुर हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया। इनमें से 10 की इलाज के दौरान मौत हो गई है। पुलिस मामले को गंभीरता से ले और जहरीली शराब बेचने वालों को गिरफ्तार करे।

मरने वालों के नाम

  1. हाशिम खान (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  2. मुकेश पासवान (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  3. हनुमत सिंह (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  4. महराज यादव (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  5. बच्चा यादव (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  6. जवाहर सहनी (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  7. रमेश सहनी (झाखरा पंचायत)
  8. उमाशंकर साह (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  9. ठग हजरा (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)
  10. सिकंदर राम (दक्षिण तेलहुआ पंचायत)

गोपालगंज में 13 लोगों की मौत
बता दें कि गोपालगंज में जहरीली शराब कांड मामले में मरने वालों की संख्या बढ़कर 13 हो गई है। वहीं 3 लोगों की आंख की रोशनी चली गई है, जबकि 7 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। इनका गोपालगंज, मोतिहारी के अस्पतालों में इलाज चल रहा है।