पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Alcohol Poisoning Death News Update; Two Deaths In Begusarai And Six In Nawada’s Bhadauni Panchayat

शराबबंदी वाले बिहार में जहरीली शराब का कहर:नवादा में 6 और बेगूसराय में 2 लोगों की मौत, गंभीर रूप से बीमार 8 लोग पटना रेफर

नवादा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नवादा की भदौनी पंचायत के गोंदापुर गांव में शराब पीने से हुई मौतों के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है।
  • नवादा में पुलिस को सूचना दिए बिना घरवालों ने 6 शवों का अंतिम संस्कार किया
  • बेगूसराय में पुलिस ने श्मशान घाट पहुंचकर 2 शवों का अंतिम संस्कार रुकवाया

शराबबंदी वाले बिहार में पिछले 48 घंटे में जहरीली शराब पीने से 8 लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों में 6 लोग नवादा और 2 बेगूसराय जिले के रहने वाले हैं। वहीं, 8 लोगों की तबीयत ज्यादा खराब होने पर उन्हें पटना रेफर किया गया है। नवादा में 6 शवों का परिवार के लोगों ने दाह संस्कार कर दिया। वहीं, बेगूसराय में पुलिस ने श्मशान घाट जाकर अंतिम संस्कार रुकवाया।

मुखिया का आरोप- खुलेआम बिक रही जहरीली शराब
नवादा जिले के भदौनी पंचायत की मुखिया आब्दा आजमी ने बताया कि दो दिन के भीतर जहरीली शराब पीने से कई लोगों की मौत हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि इलाके में खुलेआम अवैध शराब बिक रही है। यहां खरीदी बिगहा गांव में पिछले 48 घंटे में 6 लोगों की मौत जहरीली शराब पीने से हुई है। वहीं, 8 लोगों की हालत गंभीर होने पर पटना रेफर किया गया है। यहां सभी शवों का दाह संस्कार कर दिया गया है।

पुलिस बोली- जहरीली शराब से मौत की जानकारी नहीं
इधर, पुलिस का कहना है कि उसके पास जहरीली शराब पीने से किसी की मौत की सूचना नहीं आई है। अधिकतर मृतक के परिजन भी मौत के कारणों के बारे में बोलने से परहेज कर रहे हैं। हालांकि, एक मृतक शक्ति सिंह के परिजन ने बताया कि जहरीली शराब पीने के कारण उसकी मौत हुई है। कल शाम शराब पीने के बाद वह सोया तो उठ नहीं पाया।

बेगूसराय में पुलिस ने श्मशान पहुंचकर रोका अंतिम संस्कार
उधर, बेगूसराय के बखरी थाना क्षेत्र के गोढ़ियारी गांव में भी में जहरीली शराब पीने से 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि एक की हालत गंभीर बनी हुई है। तीनों ने मंगलवार दोपहर देसी शराब पी थी। घर आते ही तीनों की तबीयत बिगड़ने लगी। जब तक घर वाले कुछ समझ पाते, तब तक 3 में से एक ने घर में और दूसरे ने अस्पताल जाने के दौरान दम तोड़ दिया। तीसरे व्यक्ति को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बुधवार सुबह 9 बजे परिजन शवों को अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट ले गए थे। तब तक बखरी थाने की पुलिस को सूचना मिल गई। इसके बाद पुलिस ने श्मशान पहुंचकर अंतिम संस्कार रुकवाया।

शराब से मौत, पुलिस ने श्मशान घाट से शव उठाए

नवादा में मरने वालों की पहचान भदौनी पंचायत के गोंदापुर और खरीदी बिगहा निवासी निवासी अजय यादव, रामदेव यादव, लोहा सिंह, शक्ति सिंह, शैलेंद्र यादव और प्रभाकर कुमार गुप्ता के रूप में हुई है।

बेगूसराय में मृतकों की पहचान गोढ़ियारी के नारायण सहनी के पुत्र राजकुमार सहनी (22 वर्ष) और परमेश्वर चौधरी के बेटे सकलदेव चौधरी (38 वर्ष) के रूप में हुई। इस मामले में बीमार व्यक्ति का नाम बिरजू सहनी (25) है। बखरी SDM अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि 3 लोगों के शराब पीने की सूचना मिली थी। इसमें से 2 की मौत हुई है। परिजन दोनों शवों के अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहे थे, जिसे पुलिस-प्रशासन द्वारा रोक दिया गया। शवों को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है।

बखरी पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

ग्रामीणों ने बेगूसराय के बखरी थाना पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मामले की जांच करने आए DM और SP के सामने ही लोगों ने कहा कि जहरीली शराब का कारोबार पुलिस के संरक्षण में होता है। आज तक कोई छापेमारी नहीं हुई। लोगों ने आवेदन भी दिया, लेकिन पुलिस ने अनदेखी कर दी।