पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Nitish Kumar MLA | Bihar BJP Leaders Meets Nitish Kumar Over Cabinet Expansion And Vidhan Parishad

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुलाकात हुई, पर बात नहीं की:CM आवास में नीतीश-RCP से मंत्रिमंडल-परिषद पर मुलाकात कर निकले भाजपा के दोनों डिप्टी, संजय और भूपेंद्र, 50:50 पर मुहर, केंद्र की भागीदारी देखेंगे अध्यक्ष

पटना2 महीने पहलेलेखक: बृजम पांडेय
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।

बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार और राज्यपाल कोटे से विधान परिषद में मनोनयन के मुद्दे पर भाजपा और जदयू में सहमति बन गई है। मंत्रिमंडल विस्तार में भाजपा और जदयू के नेताओं की संख्या लगभग बराबर रहेगी। राज्यपाल कोटे से विधान परिषद के लिए मनोनयन में भी सीटों का बंटवारा भी बराबर-बराबर ही होगा। वहीं, केंद्रीय मंत्रिमंडल के मामले में समन्वय के लिए नीतीश कुमार ने पार्टी के अध्यक्ष आरसीपी सिंह को अधिकृत किया है। गुरुवार की शाम 6 बजे भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव प्रदेश के अध्यक्ष संजय जायसवाल और अपने दोनों उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद तथा रेणु देवी के साथ CM नीतीश कुमार से मिलने मुख्यमंत्री आवास पहुंचे थे। हालांकि मुलाकात के बाद CM आवास से निकलने पर भाजपा नेताओं ने कोई बयान नहीं दिया।

मुख्यमंत्री आवास जातीं डिप्टी CM रेणु देवी।
मुख्यमंत्री आवास जातीं डिप्टी CM रेणु देवी।

भाजपा-जदयू की हिस्सेदारी पर बात बननी अहम
NDA नेताओं की इस मुलाकात में कई बातें साफ हुईं। जैसे-मंत्रिमंडल में जदयू और भाजपा की हिस्सेदारी कितनी होने वाली है तथा कितने मंत्री जदयू के कोटे से होंगे और कितने मंत्री भाजपा के कोटे से होंगे। राज्यपाल द्वारा मनोनयन को लेकर भी तस्वीर साफ हुई। लंबे समय से फंसे इस मनोनयन को अंतिम रूप दिये जाने की अटकलें लग रही थीं। इसके अलावा भाजपा- जदयू के बीच इस बात पर भी निर्णय के कयास लगाये जा रहे थे कि जो सुशील मोदी और विनोद नारायण झा की विधान परिषद वाली सीट खाली हुई है, उस पर किसको विधान परिषद का सदस्य बनाया जाएगा।

अरुणाचल घटनाक्रम से बैकफुट पर भाजपा

अरुणाचल प्रदेश की घटना के बाद जदयू के तल्ख तेवर को देखते हुए भाजपा बैकफुट पर है। जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भाजपा को आईना दिखाते हुए यहां तक कह दिया था कि वह मुख्यमंत्री नहीं बनने वाले थे, लेकिन भाजपा के दबाव में वह मुख्यमंत्री बने हैं। वहीं, जदयू के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह ने भाजपा पर सीधे आरोप लगाते हुए कहा था कि भाजपा ने पीठ में छुरा घोंपा है। हालांकि डैमेज को कंट्रोल करने के लिए दिल्ली के नेता लगातार RCP सिंह और नीतीश कुमार के संपर्क में रहे हैं। यही वजह है कि आज भूपेंद्र यादव जैसे ही पटना पहुंचे, तो सीधे जदयू कार्यालय गए और वहां RCP सिंह से मुलाकात की और उन्हें गुलदस्ता भेंट किया। अब तक यह कम ही देखा गया है कि सहयोगी नेता एक-दूसरे के कार्यालय पहुंचे हों। भाजपा किसी भी हाल में जदयू का साथ छोड़ना नहीं चाहती है और यह पूरी कवायद इसी को केंद्र में रखकर की जा रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

और पढ़ें