पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Board Matric Exam 2021 Students Number Comparison To Last Year; BSEB 10th Result 2021 Latest News Updates

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना पर भारी कॅरियर की चिंता:पिछले साल 16.60 लाख तो इसबार 16.84 लाख परीक्षार्थियों ने दी मैट्रिक की महापरीक्षा

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना के बीच एग्जाम कराना BSEB के लिए थी बड़ी चुनौती
  • 40 दिन के भीतर ही बोर्ड ने रिजल्ट देकर रच दिया नया इतिहास

कोरोना के बावजूद इस बार मैट्रिक की परीक्षा देने वाले छात्रों की संख्या घटी नहीं, बल्कि बढ़ ही गई। पिछले साल के मुकाबले इसबार 24,466 अधिक परीक्षार्थी मैट्रिक की महापरीक्षा में शामिल हुए। पिछले साल 16 लाख 60 हजार तो इस बार 16,84,466 परीक्षार्थियों ने मैट्रिक की परीक्षा दी। पिछले पांच साल के आंकड़ों को देखें तो 2017 के बाद इस साल परीक्षार्थियों की सर्वाधिक संख्या रही है।

छात्राओं से ज्यादा छात्रों ने भरा परीक्षा फॉर्म
मैट्रिक परीक्षा 2021 में कुल 16,84,466 परीक्षार्थियों ने परीक्षा फॉर्म भरा था। परीक्षा में 8,37,803 छात्राएं शामिल हुई थीं, जबकि 8,46,663 छात्रों ने मैट्रिक के लिए फॉर्म भरा था। परीक्षा के दौरान अधिकतर परीक्षार्थी नर्वस दिखे थे। ऐसा भी नहीं था कि कोरोना के कारण आसान प्रश्न आए। बिहार बोर्ड ने इस बार राहत यही दी कि औब्जैक्टिव दोगुना कर दिया। छात्रों के पास ज्यादा ऑप्शन रहने के कारण उनकी मुश्किलें आसान हुईं।

सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बढ़ाए गए परीक्षा केंद्र
कोरोना के कारण मैट्रिक परीक्षा 2021 के लिए बिहार बोर्ड ने पहले से ही विशेष तैयारी कर रखी थी। 17 फरवरी से लेकर 24 फरवरी 2021 तक आयोजित मैट्रिक परीक्षा में प्रदेश के 38 जिलों में 1525 केंद्रों पर परीक्षा ली गई। गेट पर ही सैनिटाइजर की व्यवस्था और सोशल डिस्टेंसिंग के अनुसार परीक्षा हॉल में सीटिंग अरेजमेंट जैसे अतिरिक्त कार्य इसबार कोरोना के कारण करने पड़े।

कोरोना के बीच एग्जाम, 40 दिन के भीतर ही रिजल्ट

BSEB ने मैट्रिक की परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है। इस बार 78.17 प्रतिशत परीक्षार्थी पास हुए हैं। जमुई की पूजा और रोहतास के संदीप टॉपर हुए हैं। टॉप 10 में सिमुलतला के 13 छात्र हैं। इस बार 16.84 लाख परीक्षार्थियों ने मैट्रिक की परीक्षा दी थी। कोरोना के बीच एग्जाम कराना BSEB के लिए बड़ी चुनौती थी, लेकिन 40 दिन के भीतर ही बोर्ड ने रिजल्ट देकर नया इतिहास रच दिया है। मैट्रिक की परीक्षा के लिए प्रदेश में 1525 सेंटर बनाए गए थे, जहां 17 से 24 फरवरी तक परीक्षा हुई थी। इंटरमीडिएट की तरह मैट्रिक परीक्षा में भी परिणाम घोषित करने में हर स्तर से तेजी दिखाई गई।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

और पढ़ें