पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar CM Nitish Kumar Video Conference With PM Narendra Modi Over Coronavirus Outbreak Situation

कोरोना पर प्रधानमंत्री की बैठक:नीतीश की मांग- दो कोवास- 8800 मशीन और 5000 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर दे केंद्र

पटना10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बिहार सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयास की जानकारी देते नीतीश कुमार। - Dainik Bhaskar
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बिहार सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयास की जानकारी देते नीतीश कुमार।
  • 3000 हाई फ्लो नेजल कैनुला उपलब्ध करायी जाए, जिससे गंभीर लक्षण वाले मरीजों को ऑक्सीजन मिले
  • मुख्यमंत्री ने कहा- हमलोगों का लक्ष्य है प्रतिदिन 1 लाख से अधिक कोरोना संक्रमण की जांच हो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार को कोविड-19 की अपडेट स्थिति को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए बिहार सरकार द्वारा किए जा रहे काम गिनाए। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से कोवास मशीन और ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर देने की मांग की।

आरटीपीसीआर जांच बढ़ाने के लिए केंद्र दे दो कोवास-8800 मशीन
नीतीश ने कहा कि हमलोग प्रतिदिन 75 हजार से अधिक सैंपल की जांच कर रहे हैं, लेकिन इसमें सबसे महत्वपूर्ण जांच आरटीपीसीआर जांच है जो अभी 6100 ही किया जा रहा है। इसकी संख्या बढ़ाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। 5 और सरकारी मेडिकल कॉलेजों में आरटीपीसीआर जांच की व्यवस्था की जा रही है, जिससे जांच की संख्या 2300 और बढ़ जाएगी।

शीघ्र ही 10 आरटीपीसीआर मशीन और आरएनए एक्सट्रक्टर मशीन की खरीद की जाएगी, जिससे 5 हजार जांच की क्षमता और बढ़ेगी। केंद्र सरकार से आग्रह है कि दो कोवास-8800 मशीन बिहार को उपलब्ध करायी जाए जिससे प्रतिदिन जांच की संख्या 7200 और बढ़ जाएगी। इस तरह हमलोग आरटीपीसीआर जांच 20 हजार 600 प्रतिदिन कर पाएंगे।

10 लीटर अथवा अधिक की क्षमता वाले 5000 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर की आपूर्ति की जाए जिससे ऑक्सीजन युक्त बेड की संख्या शीघ्र बढ़ायी जा सके। केन्द्र सरकार से आग्रह है कि 3000 हाई फ्लो नेजल कैनुला उपलब्ध करायी जाए जिससे गंभीर लक्षण वाले मरीजों को भी ऑक्सीजन की उपलब्धता आसानी से हो सके। इससे मरीजों को 40-60 लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन दिया जा सकता है।

रोज 1 लाख से अधिक सैंपल जांच का लक्ष्य
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोगों का लक्ष्य है कि प्रतिदिन 1 लाख से अधिक सैंपल की जांच हो। बिहार में हम सभी लोगों की टेस्टिंग कराना चाहते हैं, जिससे कोरोना संक्रमितों की पहचान कर उनका बचाव किया जा सके। लोगों को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरुक किया जा रहा है। 90 प्रतिशत से अधिक लोग अब मास्क का प्रयोग कर रहे हैं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...