पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुफ्त कोविड प्लाज्मा का दावा फेल:45 दिनों में एक भी कोरोना मरीज को राहत नहीं दे पाई प्लाज्मा मशीन

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जयप्रभा ब्लड बैंक में एक माह पूर्व इंस्टॉल की गई थी टू इन वन मशीन
  • प्लाज्मा के लिए कोरोना मरीजों से निजी अस्पताल वसूल रहे हैं मोटी रकम

पटना में मुफ्त कोविड प्लाज्मा का दावा फेल हो गया है। 45 दिनों में मशीन एक भी कोरोना मरीज को राहत नहीं दे पाई है। पटना मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के लिए आई प्लाज्मा की टू इन वन मशीन को आनन फानन में जयप्रभा ब्लड बैंक में इंस्टॉल तो कर दिया गया लेकिन किसी भी मरीज को इसका लाभ नहीं मिल सका है। मुफ्त कोविड प्लाज्मा के लिए मरीजों को निजी अस्पताल में साढ़े 12 हजार रुपए तक देने पड़ रहे हैं।

प्लाज्मा को लेकर सीएम हुए थे गंभीर
कोरोना के मरीजों पर जब प्लाज्मा से लाभ दिखा तो सीएम नीतीश कुमार ने कोरोना को मात देने के लिए हाईटेक मशीन लगाने की योजना बनाई। सीएम नीतीश कुमार ने प्लाज्मा मशीन को प्राथमिकता में लिया और स्वास्थ्य विभाग ने मशीन खरीद ली। पटना मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में मशीन लगाने की पूरी तैयारी थी लेकिन आनन-फानन में इसे जयप्रभा ब्लड बैंक में लगा दिया गया। इसके बाद भी मरीजों को राहत नहीं मिल पाई।

तो मुफ्त में मिल जाता कोविड प्लाज्मा
पटना में एम्स, आईजीआईएमएस और जयप्रभा ब्लड बैंक में कोविड प्लाज्मा की मशीन है वहीं एक निजी अस्पताल में भी इसकी सुविधा है। आईजीआईएमएस में 11 हजार और एम्स में 11300 रुपए है। एम्स में भर्ती मरीजों को एम्स मुफ्त में प्लाज्मा देता है लेकिन बाहर के मरीजों से पैसा लिया जाता है। निजी अस्पताल में साढ़े 12 हजार रुपए लिया जाता है। जयप्रभा ब्लड बैंक में लगी मशीन को मुफ्त में प्लाज्मा देने का आदेश है। कोविड से ठीक हुए मरीजों का प्लाज्मा निकालकर संक्रमितों को मुफ्त में देने की इस योजना पर पूरी तरह से ग्रहण है।

न डेंगू में लाभ न कोरोना में राहत
जयप्रभा में लगाई गई टू इन वन मशीन काफी हाईटेक है। यह मशीन कोरोना और डेंगू दोनों मरीजों को ध्यान में रखकर लगाई गई थी। डेंगू के मरीजों के लिए प्लेटलेट्स और कोरोना के संक्रमितों के लिए प्लाज्मा इस मशीन से निकाला जा सकता है। अस्पताल से जुड़े लोगों का कहना है कि 45 दिनों में न तो किसी डेंगू के मरीज को राहत मिली और न ही कोरोना संक्रमित को मदद मिल पाई है। जयप्रभा ब्लड बैंक के डॉ. आनंद किशोर का कहना है कि कोविड प्लाज्मा के लिए एक भी मामला नहीं आया है, एक मामला आया था लेकिन वह मानक पर सही नहीं पाया गया। इस कारण से अभी तक एक भी कोविड प्लाज्मा नहीं निकाला जा सका है। एम्स की ब्लड की इंचार्ज डॉ. नेहा का कहना है कि एम्स में भर्ती मरीजों को मुफ्त में कोविड प्लाज्मा दिया जाता है जबकि बाहर के मरीज के लिए 11300 का रेट है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser