पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बयान:बिहार का रिकवरी रेट 69 फीसदी, राष्ट्रीय स्तर से काफी बेहतर: सुशील मोदी

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी। - Dainik Bhaskar
उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी।
  • हर गरीब परिवार को 4 मास्क और एक साबुन मुफ्त देने के लिए 160 करोड़ रुपए दिए गए
  • हमने नियमों का सख्ती से पालन किया तो संक्रमण की कड़ी अवश्य टूटेगी

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि कोरोना के खिलाफ हमारी जंग जारी है। बिहार का रिकवरी रेट 69 फीसदी है, जो राष्ट्रीय स्तर से काफी बेहतर है। यह सरकार के प्रयास, कोरोना योद्धाओं के परिश्रम और जनता के सहयोग से ही संभव हुआ है। एहतियात, जांच और इलाज के प्रयासों में तेजी लाकर हम अब भी कोरोना को हरा सकते हैं। लॉकडाउन कोई बंदिश नहीं, बल्कि संयम से महामारी को जीतने का जज्बा दिखाने का एक ब्रेक भर है। 

मोदी ने कहा है कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए एक तरफ हर गरीब परिवार को 4 मास्क और एक साबुन मुफ्त देने के लिए 160 करोड़ रुपए दिए गए, तो दूसरी तरफ मास्क लगाए बिना बाहर निकले लोगों से जुर्माना वसूलने की सख्ती भी की गई। इसके बावजूद सार्वजनिक स्थलों पर एहतियात बरतने में शिथिलता बरती गई, जिससे संक्रमण तेजी से बढ़ा और पूरे प्रदेश में 31 जुलाई तक सम्पूर्ण लाकडाउन लागू करना पड़ा। यदि हमने अपनी सामूहिक संकल्प शक्ति से काम लिया और नियमों का सख्ती से पालन किया तो संक्रमण की कड़ी अवश्य टूटेगी।

उपमुख्यमंत्री ने कहा है कि विभिन्न राज्यों में अलग-अलग दलों या गठबंधनों की सरकारें लोगों को कोरोना महामारी से बचाने में लगी हैं, इसलिए इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। विकसित प्रदेश महाराष्ट्र में दो लाख 60 हजार से ज्यादा संक्रमित हैं और 10,482 मौतें हो चुकी हैं, जबकि बिहार में मात्र 18,853 संक्रमित हुए, जिनमें 13,019 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। जिन 143 नागरिकों को बचाया नहीं जा सका, उनमें कुछ गंभीर बीमारियों से भी पीड़ित थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

    और पढ़ें