पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिक्षा विभाग ने लांच किया e-sambandhan पोर्टल:स्कूलों को संबंधन लेने में होगी आसानी, RTE भी अच्छी तरह से लागू हो सकेगा

पटना3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शिक्षा विभाग के कांफ्रेस रूम में e-sambandhan पोर्टल लांच करते शिक्षा मंत्री विजय चौधरी। - Dainik Bhaskar
शिक्षा विभाग के कांफ्रेस रूम में e-sambandhan पोर्टल लांच करते शिक्षा मंत्री विजय चौधरी।

शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने गुरुवार को शिक्षा विभाग के कांफ्रेस रूम में e-sambandhan पोर्टल लांच कर दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि निजी माध्यमिक विद्यालयों के ICSC और CBSE बोर्ड से संबद्धता के लिए शिक्षा विभाग अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी करता है। इनकी स्वीकृति और अनापत्ति प्रमाण पत्र निर्गत करने की प्रक्रिया को सुविधाजनक, पारदर्शी और आसान बनाने के उद्देश्य से इस ऑनलाइन व्यवस्था की शुरुआत e-sambandhan पोर्टल के जरिए की जा रही है।

उन्होंने कहा कि बच्चों को मुफ्त और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 (RTE) की धारा 18 और बिहार के बच्चों के मुफ्त एवं अनिवार्य शिक्षा नियमावली 2011 नियम 11 के प्रावधानों के तहत राज्य के सभी निजी प्रारंभिक विद्यालयों को अनिवार्य रूप से लागू करना है। प्रारंभिक निजी विद्यालयों की स्वीकृति जिला स्तर पर गठित त्रिसदस्यीय समिति द्वारा निर्धारित मापदंड के तहत दी जाती है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्राइवेट स्कूल, प्राइमरी, सेकेंड्री का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य किया गया है। इस पोर्टल के जरिए आवेदन आने के बाद यह जानकारी मिल सकेगी कि विद्यालय कितने हैं, उसमें कितने स्टूडेंट पढ़ रहे हैं और कितने को RTE के तहत राशि दी जानी है। कहा कि स्कूल इस बात का ध्यान रखें कि निबंधन कराने के लिए या उसे रेन्युअल के लिए पूरी प्रक्रिया का पालन करें और सभी कागजात अपलोड कराएं, ताकि निर्धारित समय के अंदर कार्य हो सके।

आवेदक को पोर्टल के जरिए मिलेगी हर सूचना

शिक्षा विभाग के अपर सचिव संजय कुमार ने बताया कि स्वीकृति और अनापत्ति प्रमाण पत्र के लिए शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर Importanat Links में e-sambandhan या edu-online.bihar,gov.in पर आवेदन कर सकते हैं। इस वेब पोर्टल के जरिए इच्छुक विद्यालय प्रबंधन समिति अपने विद्यालय के प्रस्वीकृति या अनापत्ति प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पर की गई हर कार्रवाई की सूचना आवेदक को पोर्टल के माध्यम से प्राप्त हो जाएगी।

डाटा भी विभाग के पास रह सकेगा

प्राथमिक शिक्षा निदेशक रणजीत कुमार सिंह ने कहा कि सिस्टम को आसान बनाने की कोशिश की गई है। इससे भविष्य में हमारे पास इससे जुड़ा डाटा भी रहेगा। ऑनलाइन आवेदन करने के क्रम में किसी भी तरह की तकनीकी दिक्कत आए तो समाधान के लिए दो मोबाइल नंबर भी जारी किए गए- 7004070073, 7396000010 पर संपर्क कर समस्या के बारे में बताया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...