पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेगूसराय में सरकारी स्कूल की टीचर ने की खुदकुशी:कई बार कॉल करने के बावजूद मोबाइल रिसिव नहीं हुआ तो रिश्तेदार पहुंचे घर, फंदे से लटकती मिली लाश

बेगूसराय13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शव को पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाया गया। - Dainik Bhaskar
शव को पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाया गया।

बेगूसराय में एक सरकारी स्कूल की अविवाहित शिक्षिका ने गले में फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। इस घटना के बाद मोहल्ले में जहां सनसनी फैल गई। वहीं विद्यालय के शिक्षककर्मियों में हड़कंप मचा हुआ है। घटना नगर थाना क्षेत्र के हरर्ख वार्ड नंबर 12 की है।

शिक्षिका की पहचान बरौनी थाना क्षेत्र के पिपड़ा देवस के रहने वाले भरत भूषण प्रसाद की 30 वर्षीय पुत्री नेहा कुमारी के रूप में की गई है, जो लंबे समय से झारखंड के रांची में अपने व्यवसायी पिता के साथ सपरिवार रहते थे। नेहा कुमारी को वर्ष 2014 में शिक्षक पद पर नियुक्ति मिली और तभी से ही बेगूसराय के हर्रख गांव स्थित वार्ड नंबर 12 में किराए के एक मकान में रहकर मध्य विद्यालय हर्रख में शिक्षिका के रूप में कार्यरत थी।

किराए के मकान में रहती थी
परिजनों ने बताया कि किराए के मकान में अकेले ही रहा करती थी और सोमवार की रात से ही शिक्षिका नेहा के मोबाइल पर सम्पर्क करने के लिए फोन किया जा रहा था। लेकिन उसने एक बार भी मोबाइल रिसीव नहीं किया। किसी अनहोनी की आशंका से भयभीत होकर घर वालों ने अपने रिश्तेदार को फोन कर इस बात की जानकारी दी आनन-फानन रिश्तेदारों ने जब किराए के मकान मैं पहुंचा तो कमरा अंदर से बंद मिला । इसकी सूचना लोगों ने नगर थाने पुलिस को दी। मौके पर जब नगर थाने की पुलिस पहुंचकर दरवाजा तोड़ा तो शिक्षिका नेहा कुमारी छत में लगे लोहे की हुक में फंदे से लटका हुआ मृत अवस्था में मिला।

पोस्टमॉर्टम के लिए शव को भेजा गया
फिलहाल नगर थाने के पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल भेज दिया और आगे की कार्रवाई में जुट गई है। फिलहाल मौत के कारणों का स्पष्ट खुलासा नहीं हो पाया है कि शिक्षिका ने गले में फंदा लगाकर किस परिस्थिति में और क्यों आत्महत्या की है । वहीं नगर थाने के पुलिस हत्या एवं आत्महत्या सहित अन्य बिंदुओं पर गौर करते हुए गंभीरता पूर्वक जांच में जुट गई है।

खबरें और भी हैं...