पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिहार के दो चुनावों पर ग्रहण:मई में होना है पंचायत चुनाव, 16 जुलाई तक खाली हो जाएंगी 24 MLC की सीटें, एक भी चुनाव टला तो दोनों होंगे प्रभावित

पटनाएक महीने पहलेलेखक: बृजम पांडेय
  • कॉपी लिंक
  • बिहार में पंचायतों का कार्यकाल 15 जून को हो रहा है समाप्त
  • कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण पंचायत चुनाव में हो रही देरी

बिहार में कोरोना का केस बढ़ रहा है और इसी बीच पंचायत चुनाव और बिहार विधान परिषद का चुनाव है। पंचायत चुनाव वैसे ही एक माह लेट हो चुका है। आगे भी अभी के हालात के हिसाब से चुनाव पर ग्रहण लगता दिख रहा है। वहीं विधान परिषद की 24 सीटों के लिए इसी साल जुलाई तक चुनाव हो जाने चाहिए। दरअसल विधान परिषद की 24 सीटें 16 जुलाई तक खाली हो जाएंगी। इन 24 सीटों के लिए चुनाव की पूरी प्रक्रिया जुलाई से पहले कर लेनी होगी, तभी विधान परिषद की सीटों को भरा जा सकेगा। त्रिस्तरीय पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि इसके वोटर होते हैं। इस चुनाव में आम लोग मतदान नहीं करते हैं। वार्ड पार्षद, मुखिया के अलावा जिला परिषद के सदस्य ही भाग ले सकते हैं। लेकिन, अभी बिहार में मई महीने में पंचायत का चुनाव प्रस्तावित है। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए पंचायत चुनाव को टाला जा सकता है। वैसे में विधान परिषद के चुनाव पर भी ग्रहण लग सकता है।

नए पंचायत प्रतिनिधि ही होंगे MLC के वोटर

विधान परिषद के चुनाव में त्रिस्तरीय पंचायती राज संस्था के जनप्रतिनिधि भाग लेते हैं। बिहार के त्रिस्तरीय पंचायती राज जनप्रतिनिधियों का कार्यकाल 15 जून को समाप्त हो रहा है। इससे पहले नए प्रतिनिधियों का चुनाव हो जाना चाहिए, क्योंकि नए प्रतिनिधि ही विधान परिषद के चुनाव में भाग ले सकते हैं। ऐसे में जब तक पंचायत का चुनाव नहीं होगा, तब तक MLC का चुनाव नहीं हो पाएगा। वरिष्ठ पत्रकार रवि उपाध्याय बताते है कि ये स्थिति रही तो दोनों चुनावों पर ग्रहण लग सकता है। कोरोना की वजह से यदि पंचायत चुनाव समय पर नहीं होता है तो विधान परिषद का चुनाव भी टल जाएगा, क्योंकि जिन पंचायत प्रतिनिधियों का कार्यकाल जून में खत्म हो रहा है। वो विधान परिषद में वोट देने के अधिकारी नहीं हो सकते हैं।

स्थानीय प्राधिकार की 4 सीटें पहले से ही खाली

स्थानीय प्राधिकार से चुनाव जीतकर आये बिहार विधान परिषद के 24 सदस्यों का कार्यकाल 16 जुलाई 2021 को समाप्त होने वाला है। इसके अलावा स्थानीय प्राधिकार की 4 सीटें पहले से ही खाली हैं। MLC के स्थानीय प्राधिकार से चुने गए रीतलाल यादव दानापुर से विधायक चुने गए हैं। इसके बाद उन्होंने विधान परिषद की सीट से इस्तीफा दे दिया था। स्थानीय प्राधिकार की 4 सीटों में पटना, भागलपुर- बांका, सीतामढ़ी- शिवहर और दरभंगा खाली हैं। 16 जुलाई को जिन MLC का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें रजनीश कुमार, नूतन सिंह, मनोरमा देवी, सच्चिदानंद राय, राधाचरण साह, दिलीप कुमार जायसवाल, रीना यादव, संतोष कुमार सिंह, टुन्ना जी पांडे, बबलू गुप्ता, सुबोध कुमार, हरिनारायण चौधरी, राजेश राम, संजय प्रसाद, अशोक कुमार अग्रवाल, सुमन कुमार, दिनेश प्रसाद सिंह और आदित्य कुमार पांडेय के नाम शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

और पढ़ें