• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Local News; Yaas Cyclone Update, Cyclone Will Enter In Bihar On Wednesday Evening

तूफान से पहले बिहार में मौसम बदला:यास के असर से पटना सहित 18 जिलों में बारिश; राज्यभर में अलर्ट, 18 स्पेशल ट्रेनें रद्द

पटना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
समुद्री तूफान के असर से बिहार के 33 जिलों में मौसम बदल गया है। किसी भी हालात से निपटने के लिए राज्य भर में NDRF और SDRF की 24 टीमें तैनात हैं। - Dainik Bhaskar
समुद्री तूफान के असर से बिहार के 33 जिलों में मौसम बदल गया है। किसी भी हालात से निपटने के लिए राज्य भर में NDRF और SDRF की 24 टीमें तैनात हैं।

पश्चिम बंगाल-ओडिशा में तबाही मचा रहे यास चक्रवात का असर बिहार में दिखने लगा है। राजधानी पटना सहित राज्य के 33 जिलों में मौसम बदल गया है। आसमान में काले बादल हैं। शाम 5 बजे से दक्षिणी, मध्य व पूर्वोत्तर बिहार के कम से कम 18 जिलों में रुक-रुक कर हल्की बारिश हो रही है।

मौसम विभाग का अनुमान है कि तूफान की वजह से बिहार में हल्की से माध्यम बारिश ही होगी। इससे नुकसान की आशंका नहीं है। बावजूद इसके राज्य सरकार से लेकर सभी जिलों का प्रशासन अलर्ट है। राज्य भर में NDRF और SDRF की 24 टीमें तैनात कर दी गई हैं। साथ ही 18 स्पेशल ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।

दक्षिणी-मध्य बिहार के 10 जिलों में बरसात
गंगा नदी के तटवर्ती 10 जिलों में बुधवार शाम से बूंदाबांदी के साथ हल्की से मध्यम बारिश शुरू हुई है। पटना, वैशाली, गया, नालंदा, मुंगेर, जहानाबाद, अरवल, नवादा, औरंगाबाद, बेगूसराय और भागलपुर में बारिश हो रही है। बक्सर, कैमूर, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, सीतामढ़ी और सारण जिलों के कुछ हिस्सों में भी बारिश हुई है। इसके अलावा पूर्वी बिहार के पूर्णिया, खगड़िया, अररिया, किशनगंज और कटिहार में बादल छाए हैं।

पटना में हल्की बारिश
पटना में सुबह से मौसम काफी ठंडा रहा। दोपहर बाद पटना शहर के साथ ही ग्रामीण इलाकों में बारिश हुई है। राज्य भर के कोविड मरीज राजधानी के कई बड़े अस्पतालों में भर्ती हैं, इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने बिजली की सप्लाई दुरुस्त रखने की तैयारी की है।

पटना में बारिश के बाद कारगिल चौक पर कुछ ऐसा नजारा दिखा।
पटना में बारिश के बाद कारगिल चौक पर कुछ ऐसा नजारा दिखा।

बिजली गिरने का भी डर
पटना के मौसम विज्ञान केंद्र ने पटना के साथ ही गया, नालंदा, अरवल, जहानाबाद, मुजफ्फरपुर और सारण जिलों में हल्की से मध्यम बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया था। अब तक किसी जिले से वज्रपात होने की जानकारी नहीं मिली है। 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान है। इन इलाकों के लोगों से घर में रहने की अपील की गई है।

दक्षिणी बिहार के जिलों में भी बारिश
यास चक्रवात का असर मुंगेर में भी दिख रहा है। दोपहर को जिले में तेज हवा के साथ बारिश शुरू हुई है। प्रशासन के अलर्ट के बाद लोग अपने घरों में ही हैं। सुबह से लोग उमस भरी गर्मी से परेशान थे। तेज हवा के साथ हो रही वारिश से मौसम सुहावना हुआ है। औरंगाबाद में भी सामान्य गति के साथ हवा चल रही है और रिमझिम बारिश हुई है।

यास चक्रवात का असर मुंगेर में भी दिख रहा है। जिले में तेज हवा के साथ बारिश हुई है।
यास चक्रवात का असर मुंगेर में भी दिख रहा है। जिले में तेज हवा के साथ बारिश हुई है।
भागलपुर के आसमान में छाए बादल।
भागलपुर के आसमान में छाए बादल।

सभी विभागों को 27-30 मई तक अलर्ट का निर्देश
CM नीतीश कुमार ने मंगलवार को हाईलेवल मीटिंग की। वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई इस मीटिंग में आपदा प्रबंधन विभाग, संबद्ध विभाग और सभी जिलाधिकारी जुड़े। आपदा प्रबंधन विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि बिहार में 27 से 30 मई तक आंधी, तूफान, वज्रपात और बारिश की आशंका है। इसे देखते हुए सभी जिलाधिकारियों को सतर्क कर दिया गया है।
ऊर्जा, कृषि, स्वास्थ्य, जल संसाधन, लघु जल संसाधन, पथ निर्माण एवं ग्रामीण कार्य विभाग को विशेष रूप से अलर्ट रहने को कहा गया है। NDRF और SDRF की टीमें भी तैयार हैं।

पटना में प्रशासन की तैयारी

  • सभी सरकारी अस्पतालों (PMCH, NMCH, IGIMS, AIIMS, ESIC बिहटा) को वैकल्पिक जेनरेटर की व्यवस्था रखने का निर्देश।
  • सभी निजी अस्पताल एवं डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर में भी यही व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश।
  • ऑक्सीजन का सुरक्षित भंडारण भी सुनिश्चित करेंगे, ताकि इमरजेंसी की स्थिति में इसका इस्तेमाल किया जा सके।
  • सभी ऑक्सीजन प्लांट में भी बिजली सप्लाई के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करने और सभी खाली ऑक्सीजन सिलेंडर को भरवाकर रखवाने के लिए कहा गया।
  • अधीक्षण अभियंता, बिजली सप्लाई अंचल पटना और सभी संबंधित कार्यपालक अभियंता बिजली के खंभे, तार, ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त होने से बिजली सप्लाई बिगड़ने होने की स्थिति में कम से कम समय में इसे दुरुस्त कराने के निर्देश दिए गए हैं। इसके लिए विशेष टीम को 24×7 तैयार करने का निर्देश दिया गया है।
  • सड़कों या कहीं और पेड़ गिरने की स्थिति में तुरंत उसे हटाने के लिए विशेष टीम और वाहनों का इंतजाम वन प्रमंडल, पटना और नगर निगम, पटना को करने का निर्देश दिया गया है।

यह ट्रेनें रद्द रहेंगी

  • 01447 जबलपुर-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस, जबलपुर से 25.05. 2021 एवं 26.05.2021 को
  • 01448 हावड़ा-जबलपुर स्पेशल एक्सप्रेस, हावड़ा से 26.05. 2021 एवं 27.05.2021 को
  • 02302 नई दिल्ली-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस नई दिल्ली से 26.05.2021 को
  • 02311 हावड़ा-कालका स्पेशल एक्सप्रेस हावड़ा से 26.05.2021 को
  • 02312 कालका-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस कालका से 25.05.2021 को
  • 02313 सियालदह-नई दिल्ली स्पेशल एक्सप्रेस सियालदह से 26.05.2021 को
  • 02314 नई दिल्ली- सियालदह स्पेशल एक्सप्रेस नई दिल्ली से 26.05.2021 को
  • 02319 कोलकाता-आगरा कैंट स्पेशल एक्सप्रेस कोलकाता से 26.05.2021 को
  • 02321 हावड़ा-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल स्पेशल एक्सप्रेस हावड़ा से 26.05.2021 को
  • 02322 छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल से 25.05.2021 को
  • 02381 हावड़ा-नई दिल्ली स्पेशल एक्सप्रेस हावड़ा से 27.05.2021 को
  • 02382 नई दिल्ली- हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस नई दिल्ली से 25.05.2021 को
  • 02385 हावड़ा-जोधपुर स्पेशल एक्सप्रेस हावड़ा से 26.05.2021 को
  • 02386 जोधपुर-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस जोधपुर से 25.05.2021 को
  • 02911 इंदौर-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस इंदौर से 25.05.2021 को
  • 02987 सियालदह-अजमेर स्पेशल एक्सप्रेस सियालदह से 26.05.2021 एवं 27.05.2021 को
  • 03009 हावड़ा-योग नगरी ऋषिकेश स्पेशल एक्सप्रेस हावड़ा से 26.05.2021 को
  • 03026 भोपाल-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस भोपाल से 26.05.2021 को