पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; All 359 Beds Of Government Hospitals In Patna Full, 473 Out Of 733 Full In Private Hospitals

पटना जिले में सारे सरकारी अस्पतालों के बेड फुल:1092 बेड में से 832 पर कोरोना मरीज भर्ती, निजी के 733 में से 473 बेड भी फुल

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक करते कमिश्नर। - Dainik Bhaskar
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक करते कमिश्नर।

डरिए, पटना जिले में कोरोना संक्रमण इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि अब सारे सरकारी अस्पतालों के बेड फुल हो गए हैं। कोविड नियम के पालन में लापरवाही के कारण अगर संक्रमित हुए तो बेड तक नहीं मिल पाएगा। मंगलवार को प्रमंडलीय आयुक्त की बैठक में बताया गया कि पटना जिला अंतर्गत अस्पतालों में 1092 बेड हैं, जिसमें 832 फुल हैं। इनमें सरकारी अस्पतालों के 359 में से सभी 359 फुल बेड भर गए हैं।

निजी अस्पतालों में 733 बेड हैं, जिनमें 473 बेड फुल हैं और अब मात्र 260 खाली हैं। पटना स्थित AIMS, PMCH और NMCH में बेड की संख्या बढ़ाई जा रही है। इसके अतिरिक्त 10 आइसोलेशन सेंटर हैं, जिनकी क्षमता 775 है। इनमें अभी 55 लोग रह रहे हैं। बैठक में अवगत कराया गया कि निजी अस्पतालों में तीन अन्य अस्पतालों को भी शामिल किया गया है। इनमें हिमालयन हॉस्पिटल कंकड़बाग में 15 बेड, एशियन हॉस्पिटल में 25 और आर्टिश हॉस्पिटल बाइपास में 10 बेड हैं। मरीज की संख्या बढ़ने पर इनका उपयोग भी किया जाएगा।

DM, SDM टीम बनाकर जानेंगे अस्पतालों का हाल
प्रमंडलीय आयुक्त ने प्रमंडल के सभी DM, SSP/SP, SDO, SDPO के साथ बैठक की। सभी DM एवं SDM को टीम बनाकर अस्पतालों का निरीक्षण करने का निर्देश दिया। सभी SDO को आइसोलेशन सेंटर का निरीक्षण करने और वहां पर पूरी तैयारी रखने का निर्देश दिया है। प्रमंडलीय आयुक्त ने सभी DM को अस्पतालों का निरीक्षण करने और कोविड पेशेंट के इलाज की समीक्षा करने को कहा है। अस्पतालों में बेड की संख्या और ICU एवं ऑक्सीजन की भी व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा, ताकि मरीजों को किसी प्रकार की कठिनाई ना हो। सभी DM/SP को आइसोलेशन सेंटर का संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी से निरीक्षण कराने और पूरी व्यवस्था सुनिश्चित रखने का निर्देश दिया, ताकि आवश्यकतानुसार उपयोग किया जा सके। साथ ही दंडाधिकारी पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति करने का भी निर्देश दिया।

चौक-चौराहों पर सख्ती से होगी मास्क चेकिंग
प्रमंडलीय आयुक्त की बैठक में निर्देश दिया गया कि सभी चौक-चौराहों पर सख्ती से मास्क चेकिंग अभियान चलाया जाएगा। हर हाल में 7 बजे संध्या से दुकान बंद कराने संबंधी सरकारी दिशा निर्देश का सख्ती से अनुपालन किया जाए। दुकानों / शापिंग मॉल / मास्क नहीं लगाने पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए माइकिंग करने और लोगों को जागरूक करने का निर्देश दिया गया।

खबरें और भी हैं...