• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Fire In Patna University Administrative Building Burnt Important Papers Of Examination Section

पटना यूनिवर्सिटी की एडमिनिस्ट्रेटिव बिल्डिंग में लगी आग:एग्जामिनेशन सेक्शन के महत्वपूर्ण कागजात जले; कैसे कागज थे, अभी पता नहीं, अधिकारी कह बोले- रद्दी थी

पटना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कर्मियों की आल्टरनेट ड्यूटी और कॉलेज बंद रहने की वजह से एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक में नहीं थी ज्यादा भीड़। - Dainik Bhaskar
कर्मियों की आल्टरनेट ड्यूटी और कॉलेज बंद रहने की वजह से एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक में नहीं थी ज्यादा भीड़।

गुरुवार दोपहर बाद पटना यूनिवर्सिटी के एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक में अचानक आग लग गई। अचानक से तेज धुआं निकलता देख, वहां मौजूद यूनिवर्सिटी के अधिकारियों और स्टाफ के बीच हड़कंप मच गया। लोग बाहर की ओर भागने लगे और शोर मचाने लगे। अशोक राजपथ पर यूनिवर्सिटी का एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक है। इस ब्लॉक की बिल्डिंग में ग्राउंड फ्लोर और फर्स्ट फ्लोर है। आग फर्स्ट फ्लोर पर ही लगी। इस फ्लोर पर यूनिवर्सिटी के एग्जामिनेशन का ऑफिस है और आग की शुरुआत इसी सेक्शन से हुई।

आग कैसे लगी? इस बारे में वहां मौजूद स्टाफ को कुछ भी नहीं पता है। लेकिन, अचानक उनकी नजर धुएं पर पड़ी तो सब ऑफिस से बाहर भागने लगे। आग लगने की वजह से एग्जामिनेशन सेक्शन के बहुत सारे कागजात जल कर राख हो गए हैं। ये कागजात किस तरह के थे, इसका अभी पता नहीं चल सका है। मगर, अचानक हुए इस हादसे में किसी व्यक्ति को नुकसान नहीं हुआ है।

आग बुझने के बाद कमरे में रखे कागजात देखते कर्मी।
आग बुझने के बाद कमरे में रखे कागजात देखते कर्मी।

हालांकि, यूनिवर्सिटी के अधिकारी का दावा है कि आग की शुरुआत बंद पड़े एक कमरे से हुई। सीढ़ी घर का वो कमरा पिछले कई दिनों से बंद पड़ा हुआ था। उस बंद कमरे में पुराने और रद्दी के कागजात रखे थे। शॉर्ट सर्किट की वजह से वहां आग लगी। इसके बाद तुरंत पूरे बिल्डिंग की बिजली कट गई। समय पर पुलिस और फायर ब्रिगेड की यूनिट आ गई। इस कारण कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ।

कोरोना की दूसरी लहर की वजह से इसके प्रोटोकॉल को फॉलो किया जा रहा था। आज यूनिवर्सिटी के ऑफिस में सिर्फ 25 प्रतिशत स्टाफ को ही ड्यूटी पर बुलाया गया था। अधिकारी से लेकर सारे स्टाफ की ड्यूटी को आल्टरनेट डे के हिसाब से लगाया गया है। उसी अनुसार उन्हें ऑफिस आने को कहा गया है। साथ ही सरकार के आदेश से सभी कॉलेज बंद हैं। यही वजह है कि जिस वक्त आग लगी, उस दरम्यान कैंपस में भीड़-भाड़ नहीं थी। वरना आम दिनों में स्टूडेंट्स की काफी भीड़ होती है, जो किसी न किसी काम से वहां आते रहते हैं।

खबरें और भी हैं...