• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Health Department In Khagaria Sent Negative Corona Test Report For Sample Taken 56 Days Earlier

खगड़िया में अनोखा कोविड टेस्ट:28 अप्रैल को मैसेज भेज कहा- 26 को दिए सैंपल में आप निगेटिव हैं; मरीज ने 56 दिन पहले 3 मार्च को कराया था एंटीजन टेस्ट

खगड़िया7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोगरी के सुदर्शन के पास आया स्वास्थ्य विभाग का मैसेज। - Dainik Bhaskar
गोगरी के सुदर्शन के पास आया स्वास्थ्य विभाग का मैसेज।

कोरोना महामारी की भयावहता के बीच स्वास्थ्य विभाग के कारनामों से व्यवस्ठा पर गंभीर सवाल तो उठ ही रहा है, साथ ही साथ लोगों को भी असमंजस में डाल दिया जा रहा है। मामला कोविड जांच और उसके रिपोर्ट से जुड़े होने के कारण यह मामला और भी गंभीर है। एक व्यक्ति ने कोविड जांच के लिए सैंपल दिया ही नहीं, उनके नामपर भी सैंपलिंग आईडी रजिस्टर्ड कर 26 अप्रैल की तारीख में सैंपल लेने और जांच रिपोर्ट निगेटिव होने का मैसेज भेजा जा रहा है।

मामला खगड़िया जिले के गोगरी अनुमंडल मुख्यालय स्थित रेफरल अस्पताल से जुड़ा है। गोगरी प्रखंड के शिशवा गांव निवासी शंभू यादव के पुत्र सुदर्शन कुमार ने भास्कर को बताया कि 26 अप्रैल को मैंने जांच के लिए सैंपल दिया ही नहीं, फिर भी 28 अप्रैल को मुझे मैसेज कर 26 अप्रैल को सैंपलिंग करने तथा रिपोर्ट निगेटिव आने की जानकारी दी जा रही है। इससे मैं असमंजस में हूं।

3 मार्च को दिया था अस्पताल में सैंपल

बिना जांच करवाए रिपोर्ट आने के मामले में सुदर्शन कुमार ने बताया कि मैंने 3 मार्च 2021 को अस्पताल में जांच करवाया था। तब रिपोर्ट निगेटिव आई थी। अस्पताल के द्वारा निर्गत उस तारीख की पर्ची और रिपोर्ट मेरे पास है। मगर मैंने दोबारा जांच नहीं करवाया है।

सुदर्शन द्वारा 3 मार्च को दिए सैंपल की रिपोर्ट।
सुदर्शन द्वारा 3 मार्च को दिए सैंपल की रिपोर्ट।

अस्पताल ने टेक्निकल प्रॉब्लम का अंदेशा जताया

इस बारे में अस्पताल प्रबंधन ऐसा नहीं होने की बात कह रहे हैं। अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. चंद्रप्रकाश ने कहा कि ऐसा तो नहीं हो सकता है। हो सकता है किसी टेक्निकल प्रॉब्लम के कारण ऐसा हुआ हो।

जिले में दुगने रफ़्तार से बढ़ रहा संक्रमण

खगड़िया में अब दोगुने रफ्तार से कोरोना संक्रमित मरीजों में वृद्धि देखी जा रही है। प्रतिदिन 200 से अधिक संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। आज गुरुवार को भी जिले में 200 नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। कोरोना संक्रमण से मरने वालों की पुष्टि सिर्फ उनकी ही हो रही है, जिनकी मौत से पहले कोविड जांच कराया गया है। जबकि हर रोज कहीं न कहीं दो चार लोगों की अचानक मौत भी हो रही है। हालांकि संक्रमण के चपेट में आने वाले लोगों का अब रिकवरी रेट अच्छा है। जिले में प्रतिदिन 50 से ज्यादा लोग ठीक भी हो रहे हैं। बुधवार को भी 53 लोगों कोरोना को मात देकर ठीक हुए। इससे पूर्व मंगलवार को 76 मरीजों ने भी होम आइसोलेशन में रहकर कोरोना को मात देते हुए ठीक हो गए।