• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Monsoon Rains Will Happen Again As Soon As The Trough From Anupgarh To West Bengal Approaches Bihar

4 दिन बाद बिहार में एक्टिव होगा मानसून:हीट इफेक्ट्स के चलते हल्की-फुल्की बारिश हो सकती है, तेज बारिश का अनुमान 28-29 जुलाई के बाद ही; इस दौरान गर्मी परेशान करेगी

पटना4 महीने पहले
मौसम विभाग का कहना है कि साउथ वेस्ट मानसून के कमजोर बनने के बाद भी हीटिंग इफेक्ट से बारिश का सिस्टम बन रहा है।

बिहार में मानसून कमजोर पड़ गया है। आने वाले दिनों में मानसूनी बारिश का कोई सिस्टम नहीं बन रहा है। तापमान बढ़ने के कारण बारिश के बादल बन रहे हैं जिससे कुछ देर तो बारिश हो रही है, लेकिन मानसून वाली तेज बारिश को लेकर अभी इंतजार करना पड़ेगा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अनूपगढ़ से पश्चिम बंगाल तक जाने वाली ट्रफ रेखा के बिहार के संपर्क में आने के बाद बारिश की संभावना बनेगी। आने वाले 5 दिनों में ट्रफ रेखा बिहार को टच करेगी। इसके बाद बारिश का सिस्टम बन सकता है। हालांकि, मौसम विभाग ने 22 जुलाई से 22 दिनों तक मानसून के कमजोर पड़ने की बात कही थी। इस बीच होने वाली बारिश को हीट इफेक्ट बताया है जो राज्य के कुछ हिस्सों में ही होगी।

ट्रफ रेखा पर निर्भर है बिहार में बारिश
मौसम विभाग का कहना है कि मानसून की ट्रफ रेखा अनूपगढ़, सवाई माधवपुर, झांसी, रीवा, अम्बिकापुर होते हुए उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र से गुजर रही है। बिहार से यह काफी दूर है। इस कारण से इसका प्रभाव अगले 48 घंटे से 72 घंटे में कम देखने को मिल सकता है। यानी राज्य के एक दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग का कहना है कि जैसे ही यह ट्रफ रेखा बिहार की ओर बढ़ेगी मानसून की सक्रियता एक बार फिर बढ़ जाएगी। अनुमान है कि 4 से 5 दिन बाद गरज के साथ आकाशीय बिजली व मध्यम से भारी बारिश पूरे राज्य में हो सकती है। यानी 28-29 जुलाई के बाद तक।

तापमान में नहीं बदलाव, बढ़ रही उमस
मौसम विभाग के मुताबिक, तपिश और तापमान के कारण उमस बढ़ रही है। बिहार में अधिकतम तापमान सामान्य से 2 से 3 डिग्री सेंटीग्रेड अधिक रिकॉर्ड किया गया है। अगले 48 घंटे तक अधिकतम तापमान की यही स्थिति बनी रहेगी। इस बीच तपिश से बिहार के एक दो स्थानों पर बारिश के बादल बन सकते हैं। जहां कुछ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। नमी के कारण ऐसी स्थिति बन सकती है। हालांकि, मानसूनी बारिश की तरह वर्षा नहीं होगी।

हीटिंग इफेक्ट से बिहार में कुछ स्थानों पर बारिश
मौसम विभाग का कहना है कि साउथ वेस्ट मानसून के कमजोर बनने के बाद भी हीटिंग इफेक्ट से बारिश का सिस्टम बन रहा है। हालांकि बारिश बिहार के सभी क्षेत्रों में नहीं हो रही है, लेकिन एक दो स्थानों पर काफी तेज है। शुक्रवार को पटना में हीटिंग इफेक्ट का असर दिखा है। मानसूनी बारिश नहीं होने के कारण पटना में बारिश अधिक समय तक नहीं हुई लेकिन जितनी देर हुई उससे लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली है।

पटना में मौसम हुआ सुहाना
शुक्रवार की रात पटना में बारिश होने के बाद से ही हवाएं चल रही हैं इस कारण से मौसम थोड़ा ठंडा है। सुबह से ही तेज हवाएं 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही है। इससे काफी राहत है। तापमान में भी गिरावट देखने को मिली है। पटना में मौसम पूरी तरह से सुहावना हो गया जिससे सुबह सुबह लोगों को काफी आनंद आया। बारिश के फुहारों के बीच हवा के कारण से मौसम काफी अच्छा हो गया, हालांकि मौसम विभाग का कहना है कि यह मानसून का असर नहीं है। मानसून का असर सिस्टम बनने के बाद 4 से 5 दिन बाद एक्टिव होगा।

खबरें और भी हैं...