मानसून सत्र छोटा पर सवालों से भरपूर होगा:बिहार में सत्ता पक्ष से लेकर विपक्ष तक तैयारी में जुटा, 10 MLA भास्कर से बोले- सत्र नया है, सवाल पुराने होंगे; क्योंकि अब तक नहीं हुआ है समाधान

पटना3 महीने पहलेलेखक: प्रणय प्रियंवद
  • कॉपी लिंक
मानसून सत्र में पांच बैठकें होंगी। - Dainik Bhaskar
मानसून सत्र में पांच बैठकें होंगी।

बिहार विधान मंडल का मानसून सत्र 26 जुलाई से शुरू होने वाला है। यह 30 जुलाई तक चलेगा और इसमें पांच बैठकें होंगी। इसको लेकर सत्ता पक्ष से लेकर विपक्ष तक तैयारी में जुट गया है। विधायक अपने क्षेत्र की समस्याओं को सूचीबद्ध कर रहे हैं ताकि सवाल पूछा जा सके। ऐसे में भास्कर ने 10 विधायकों और विधान पार्षदों से बात की। उन्होंने क्या बताया, पढ़ें;

कोड़वा शिव मंदिर को पर्यटन के नक्शे पर लाने की मांगः राहुल तिवारी

RJD के शाहपुर से विधायक राहुल तिवारी ने बताया कि इस बार के सत्र में बढ़ती महंगाई, जातीय जनगणना और कोरोना के समय सरकार के फेल्योर से जुड़ा सवाल होगा। अपने क्षेत्र के कोड़वा शिव मंदिर से जुड़ा सवाल भी उठाएंगे। यहां पहाड़ी टीला है और उस पर शिव का प्राचीन मंदिर है। हम चाहते हैं कि सरकार इसे बिहार के पर्यटन के मानचित्र में शामिल करे।

सभी अस्पतालों में सीटी-स्कैन मशीन की मांग करेंगेः सुधाकर सिंह

RJD के रामगढ़ विधायक सुधाकर सिंह बताते हैं कि उन्होंने शिक्षा, सिंचाई, ऊर्जा और खनन से जुड़े सवाल दिए हैं। अस्पतालों में सीटी-स्कैन मशीन लगाने की मांग करेंगे। तीसरे वेव की चर्चा है और सरकार की तैयारी जीरो है। वे कहते हैं कि विधायक फंड की 2 करोड़ राशि सरकार ने रख ली है और उससे विकास कहीं दिख नहीं रहा है। बिजली विभाग में धांधली का सवाल भी उठाएंगे।

बिजली, पानी, नगर विकास, जल संसाधान और स्वास्थ्य से जुड़े सवाल पूछेंगेः प्रेमचंद मिश्रा

कांग्रेस के पार्षद प्रेमचंद मिश्रा कहते हैं कि उन्होंने 22 सवाल दिए हैं। तीन सवाल ध्यानाकर्षण में भी हैं। वे बताते हैं कि बिजली, पानी, नगर विकास, जल संसाधन और स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दे सवाल के रूप में उठाएंगे। ये सभी सवाल जनहित से जुड़े हैं। इसके अलावा लॉ एंड ऑर्डर और कोरोना के थर्ड वेब की आशंका के बीच सरकार से पूछा जाएगा कि तैयारी का हिसाब दें।

महिला विधायकों के साथ बहुत बुरा हुआ था, वह सवाल उठाउंगीः रेखा देवी

RJD की मसौढ़ी से विधायक रेखा देवी ने कहा कि छोटा सत्र है, इसमें कहां वक्त मिल पाएगा सवाल पूछने का? वह कहती हैं कि फिर भी तीन-चार सवाल उन्होंने पूछने के लिए भेजा है। वह इससे काफी दुखी हैं कि महिला विधायकों के साथ बजट सत्र में बहुत गलत सलूक किया गया और सजा के नाम पर दो सिपाहियों पर कार्रवाई हो गई।

जमालपुर में सीसीटीवी कैमरा कब तक लगाया जाएगा : समीर सिंह

कांग्रेस के पार्षद समीर सिंह कहते हैं कि सत्र छोटा है, इसलिए बहुत सवाल इसमें नहीं पूछा जाएगा। वह कहते हैं कि निवेदन में भी सवाल दूंगा- 'मैं चाहता हूं कि जमालपुर में सीसीटीवी कैमरा लगाया जाए। इसके लिए पहल हो, इसलिए इस सवाल को उठाने की कोशिश रहेगी। जमालपुर सुंदर शहर हुआ करता था, इसकी रौनक फिर से लौटे'।

पूरे बिहार में डॉक्टरों के 61 फीसदी पद खाली हैं: मनोज मंजिल

माले के अगिआंव से विधायक मनोज मंजिल कहते हैं कि इस बार भी जनता के सवाल जरूर उठाए जाएंगे। पूरे बिहार में डॉक्टरों के 61 फीसदी पद खाली हैं, उसको भरने के लिए सरकार से सवाल पूछेंगे। बिहार के एकमात्र मेंटल अस्पताल कोइलवर पर भी सवाल करेंगे। राशन के सवाल और कुछ सड़क के सवाल भी दिए गए हैं। टीचर की बहाली सरकार जिस तरह से कर रही है, वह अच्छी व्यवस्था नहीं है।

बच्चों को आंगनबाड़ी योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा: संदीप सौरभ

माले के पालीगंज विधायक संदीप सौरभ ने कहा कि उन्होंने 15 सवाल इस बार दिए हैं। इसमें शिक्षा, पथ निर्माण, समाज कल्याण और स्वास्थ्य से जुड़े मामले हैं। अपने क्षेत्र से जुड़ा एक मामला उठाना चाहते हैं कि बच्चों को आंगनबाड़ी योजना का लाभ ठीक से नहीं मिल पा रहा। इस योजना में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार व्याप्त है। सरकार के कोरोना की तैयारी का हिसाब भी लिया जाएगा।

रिटायर होने के 5-10 साल बाद भी प्रमोशन और एरियर बकाया क्यों, यह पूछेंगेः संजीव कुमार सिंह

JDU के विधान पार्षद संजीव कुमार सिंह कहते हैं कि इस बार एक दर्जन से ज्यादा सवाल उन्होंने दिए हैं। विश्वविद्यालयों में नए पाठ्यक्रम को शुरू करने से पहले राज्य सरकार से अनुमति जरूरी है, लेकिन कई विश्वविद्यालयों में इसका पालन नहीं किया जा रहा है। यह भी सरकार से पूछेंगे कि यूनिवर्सिटी से शिक्षक के रिटायर करने के 5-10 साल बाद भी प्रमोशन और एरियर क्यों बकाया है?

बाबा चौक से ए.एन. कॉलेज तक नाला पाट कर सड़क कब तक बनेगा : संजीव चौरसिया

BJP के दीघा से विधायक संजीव चौरसिया कहते हैं कि आए दिन लोगों को हो रही परेशानी से जुड़ा सवाल पूछेंगे। वे कहते हैं कि बाबा चौक से लेकर एएन कॉलेज तक नाला पाट कर सड़क बनना है, पर इस पर कोई काम ही नहीं हो रहा है। बड़ा सवाल यह भी होगा कि स्लम की झोपड़ियों में रहने वाले लोगों के लिए रहने का इंतजाम किए बिना उनको कैसे हटाया जा सकता है?

कौन-कौन से सवाल हैं यह अभी याद नहींः अजीत शर्मा

भागलपुर से कांग्रेस के विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि कई तरह के सवाल विधानसभा को दिए हैं। इसमें चारों कैटेगरी में सवाल दिए गए हैं। कौन कौन से सवाल दिए हैं ये अभी याद नहीं हैं, कल बता पाएंगे।

खबरें और भी हैं...