पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वॉक इन इंटरव्यू देने पहुंचे अभ्यर्थी:PMCH में 21 और NMCH में 25 समेत राज्य के सरकारी अस्पतालों में 1000 डॉक्टर होंगे बहाल

पटना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गर्दनीबाग स्थित जिला स्वास्थ्य समिति के परिसर में वॉक इन इंटरव्यू के लिए पहुंचे अभ्यर्थी। - Dainik Bhaskar
गर्दनीबाग स्थित जिला स्वास्थ्य समिति के परिसर में वॉक इन इंटरव्यू के लिए पहुंचे अभ्यर्थी।

बिहार के अस्पतालों में 1000 डॉक्टरों की बहाली आज 10 बजे से शुरू हो चुका है। पटना के गर्दनीबाग स्थित जिला स्वास्थ्य समिति परिसर में 85 और गया के मगध मेडिकल कॉलेज में 30​​​​​​ अभ्यर्थी वॉक इन इंटरव्यू के लिए पहुंचे। PMCH में 21, तथा NMCH में 25 तथा बाकी राज्य के बाकी सरकारी अस्पतालों में 15-15 डॉक्टरों की बहाली फिलहाल की जाएगी। राज्य के चिकित्सा महाविद्यालयों व अस्पतालों तथा जिला स्तरीय अस्पतालों में एक साल के लिए यह बहाली की जाएगी। भर्ती के लिए अभ्यर्थियों के पास MBBS की डिग्री जरूरी है। डॉक्टरों को 65 हजार रुपए प्रति महीने वेतन दिए जाएंगे।

मेधा सूची का निर्धारण MBBS में प्राप्त अंक के आधार पर होगा और विदेश से प्राप्त सभी डिग्री धारकों की MBBS प्राप्तांक की गणना के आधार पर की जाएगी। अभ्यर्थियों को शैक्षणिक योग्यता की प्रति के साथ जिला स्वास्थ्य समिति अथवा चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल के अधीक्षक के कार्यालय में आना होगा। उम्मीदवारों के आधार पर मेधा का निर्धारण कर आरक्षण रोस्टर का पालन करते हुए नियोजन किया जाएगा। वॉक इन इंटरव्यू की तिथि 10 मई, 14 मई, 17 मई, 21 मई व उसके बाद प्रत्येक सोमवार को निर्धारित की गई है।

राज्य सरकार ने MBBS अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राओं की सेवा कोविड मरीजों के इलाज के लिए लेने का फैसला किया है। उनकी सेवा टेली मेडिसिन तथा माइल्ड कोविड केस मरीजों के इलाज के लिए ली जाएगी। उन्हें 15 हजार रुपए मासिक मानदेय दिया जाएगा तथा न्यूनतम 100 दिनों से एक साल की तक कोविड केयर के लिए दी गई। सेवा को एक साल की सेवा मानी जाएगी तथा उन्हें नियमित नियुक्ति में अंकों में छूट दी जाएगी।

मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इंटरव्यू देते डॉक्टर।
मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इंटरव्यू देते डॉक्टर।

गया में 15 लैब टेक्निशियन ने दिया इंटरव्यू
मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मेडिकल अफसर व लैब टेक्निशियन की बड़ी कमी को दूर करने की कवायद सोमवार से तेज कर दी गई। पहले दिन डॉक्टर के लिए 30 अभ्यर्थियों ने इंटरव्यू दिए। वहीं लैब टेक्निशियन के लिए 15 अभ्यर्थी शामिल हुए। मगध मेडिकल कॉलेज में 13 डॉक्टर और लैब टेक्निशियन 17 हैं। इस कमी को दूर करने के लिए ही सोमवार को इंटरव्यू की प्रक्रिया शुरू की गयी।

खबरें और भी हैं...