• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; See The Color Of The Weather In Bihar, Extreme Heat In 31 Districts And Rain In 7 Districts

बिहार में आंधी-पानी में 8 मरे:राजधानी में पेड़ गिरने से राहगीरों की बाल-बाल बची जान, 10 जिलों में झमाझम बारिश

पटना4 महीने पहले

बिहार में प्रचंड गर्मी के बीच गुरुवार दोपहर बारिश हुई। मौसम विभाग ने पटना सहित 10 जिलों में बारिश हुई। पटना में तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश हुई। आंधी के कारण कई जगह पर पेड़ उखड़ गए। डाकबंगला चौराहा और तारामंडल के बीच पेड़ सड़क पर गिर गया। वहीं, गोपालगंज, नालंदा में तेज हवा के साथ बारिश हुई। सूचना है कि आंधी-पानी में कुल 8 लोगों की मौत हो गई है।

मनेर के रतनपुरा में गंगा नदी में बालू लदे तीन नाव पलट गई। नाव पर सवार मजदूर तैर कर बाहर निकले। नाव रतन टोला में बालू भरकर पहलेजा सोनपुर की ओर जा रही थी। तभी तेज आंधी चलने लगी है, जिससे नाव अनियंत्रित होकर पलट गई।

राजधानी में जगह-जगह पेड़ गिरने से शहर में जाम की स्थिति बन गई। बेली रोड पर दो जगह पेड़ गिर जाने से यहां लगभग एक घंटे तक गाड़ियां रेंगती रहीं। वहीं, गांधी मैदान के पास पेड़ गिरने से गन्ना बेचने वाले एक व्यक्ति की जान बाल-बाल बची। छज्जुबाग इलाके में पेड़ गिरने से भी जाम की स्थिति बनी रही।

तेज आंधी के कारण आज शाम करीब 4 बजे पटना के कोतवाली थाने में पार्किंग का छत भरभराकर गिर पड़ा। पार्किग में कई बाइक लगी हुई थी, जो बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है। कई इलाकों में सब स्टेशन पर बिजली गिर जाने से घंटों बिजली गुम रही।

गंगा नदी में नाव अनियंत्रित होकर पलट गई।
गंगा नदी में नाव अनियंत्रित होकर पलट गई।

मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए पश्चिमी चंपारण, गया, नवादा, शेखपुरा, नालंदा, सीवान, सारण, पटना, भोजपुर और अरवल में बारिश को लेकर अलर्ट किया है। इन जिलों में गरज के साथ बारिश होगी। इसी क्रम में मौसम विभाग ने भोजपुर, बक्सर, सारण, पूर्वी चंपारण, जमुई, मुंगेर, मधुबनी, सुपौल और अररिया में बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

डाकबंगला चौराहा और तारा मंडल के बीच सड़क पर गिरा पेड़।
डाकबंगला चौराहा और तारा मंडल के बीच सड़क पर गिरा पेड़।

गंगा में समुद्र जैसी लहरें उठीं तो देखिए क्या हुआ

आंधी-बारिश से 2 महिला, 5 मासूमों समेत 8 की गई जान

गुरुवार दोपहर बाद आई आंधी-बारिश ने कई जिलों में तबाही मचाई है। 5 जिलों से महिला-बच्चों समेत 8 की मौत की सूचना है। इनमें मुंगेर में एक महिला और एक अधेड़, सारण में एक महिला और एक 10 साल का बच्चा, भागलपुर में 12 और 14 साल के दो बच्चों के साथ जहानाबाद और खगड़िया में एक-एक मासूम की मौत आंधी की चपेट में आकर हुई है।

जमालपुर-भागलपुर रेलखंड पर 2.5 घंटे परिचालन ठप, 4 ट्रेनें फंसी

शाम को आई तेज आंधी-बारिश के कारण अकबरनगर स्टेशन की डाउन लाइन पर पेड़ की टहनी टूटकर गिर गई, जबकि गनगनिया स्टेशन की अप लाइन पर ट्रैक सिग्नल पोल टूट कर गिर गया। इससे जमालपुर-भागलपुर के बीच ट्रेन का परिचालन लगभग ढाई घंटों तक ठप हो गया। इससे आधे दर्जन गाड़ियां जहां-तहां रुक गईं। अप लाइन को करीब 8 बजे तक क्लियर करा लिया गया, जबकि डाउन लाइन देर शाम तक क्लियर नहीं किया जा सका है।

जमालपुर स्टेशन अधीक्षक ओंकार प्रसाद के अनुसार डाउन ब्रह्मपुत्र मेल करीब आधे घंटा रुकी रही। इसके अलावा डाउन गया-हावड़ा एक्सप्रेस बरियारपुर स्टेशन पर, डाउन जमालपुर-रामपुरहाट पैसेंजर गनगनिया स्टेशन पर, अप साहिबगंज-दानापुर इंटरसिटी सुल्तानगंज स्टेशन पर दो से ढाई घंटे तक रुकी रही।

46 डिग्री के पार होगा पारा

बिहार में दो दिनों से लगातार अधिकतम तापमान 45 डिग्री के पार चल रहा है। बुधवार को बिहार में अधिकतम तापमान 45 डिग्री बक्सर में रिकॉर्ड किया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, 24 घंटे के दौरान राज्य के उत्तरी भागों के एक दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई है। अररिया में 5.2 एमएम और गोनहा में 16 एमएम बारिश हुई है।

तेज आंधी के कारण बिहार शरीफ कृषि कार्यालय के बाहर बिजली के पोल पर टूट कर गिरा पेड़।
तेज आंधी के कारण बिहार शरीफ कृषि कार्यालय के बाहर बिजली के पोल पर टूट कर गिरा पेड़।

जानिए, क्यों बदल रहा मौसम का रंग

मौसम विभाग का कहना है कि राज्य के उत्तरी भागों में 8 से 10 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से पूर्वी एवं दक्षिण पूर्वी हवा का प्रवाह हो रहा है। वहीं, राज्य के दक्षिणी भागों में पछुआ एवं दक्षिण पछुआ हवा का प्रवाह हो रहा है। साथ ही एक पूर्व पश्चिम ट्रफ रेखा उत्तर पश्चिम राजस्थान से पश्चिमी असम तक दक्षिणी उत्तर प्रदेश दक्षिणी बिहार और उप हिमालयी पश्चिम बंगाल से होकर समुद्र तल से 0.9 किलो मीटर ऊपर गुजर रही है। इस कारण से बिहार में मौसम का रंग बदल रहा है।

गोपालगंज में बारिश।
गोपालगंज में बारिश।

डॉक्टरों ने किया सावधान

बिहार में बदल रहे मौसम को लेकर डॉक्टरों ने भी लोगों को अलर्ट किया है। पटना के बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर सुमन का कहना है कि राज्य में जिस तरह से मौसम है उसमे बीमारी का बहुत खतरा है। बच्चों में उल्टी दस्त और बुखार की समस्या मौसम के कारण ही बढ़ी है। बच्चों को सुरक्षित रखें धूप से बचाएं।

डॉ. राणा एसपी सिंह का कहना है कि मौसम का जब भी उतार चढ़ाव होता है तो सेहत पर प्रभाव पड़ता है। इधर, कुछ दिनों से मौसम के दो रंग है। कभी गर्मी तो कभी बारिश हो रही है। ऐसे में लोगों को संभल कर सावधानी पूर्वक रहना होगा। खान पान के साथ धूप से बचाव करना होगा। बच्चों और वृद्ध के साथ बीमार लोगों को इस मौसम में पूरी तरह से सावधान रहना होगा।

पटना में सुबह की हवा से मिली थोड़ी राहत

पटना में सुबह हवा की रफ्तार बढ़ने के साथ थोड़ी सी राहत मिली थी। इससे आसमान में बादलों का असर दिखा है। हालांकि, मौसम विभाग का कहना है कि दक्षिण बिहार में पटना सहित अन्य जिलों में भी दिन के तापमान में कोई खास परिवर्तन नहीं दिखाई देगा। ऐसे में यह साफ है कि हवा का प्रभाव भी अधिक समय तक नहीं रहेगा। पटना से लेकर राज्य के 31 जिलों में लोगों को गर्मी से परेशानी का सामना करना होगा।