• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Tej Pratap Composed The Mahabharata: Jagdanand Singh Was Called Shishupal, Sanjay Yadav Was Called Duryodhana And Himself Shri Krishna

RJD की लड़ाई महाभारत के पात्रों तक पहुंची:तेज प्रताप ने तेजस्वी के रणनीतिकार संजय को दुर्योधन तो जगदानंद को शिशुपाल बताया, कहा- कृष्ण को आता है वध करना

पटना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेजप्रताप तो खुद को शुरू से ही कृष्ण और तेजस्वी को अर्जुन कहते रहे हैं। - Dainik Bhaskar
तेजप्रताप तो खुद को शुरू से ही कृष्ण और तेजस्वी को अर्जुन कहते रहे हैं।

RJD के अंदर महाभारत का पूरा सीन बन गया है। कार्यकर्ता भी आपस में महाभारत के पात्रों से राजनीतिक पात्रों की तुलना कर रहे हैं। तेज प्रताप यादव तो खुद को शुरू से ही कृष्ण और तेजस्वी यादव को अर्जुन कहते रहे हैं। शुक्रवार देर रात एक न्यूज चैनल से बातचीत में उन्होंने तेजस्वी के रणनीतिकार संजय यादव को दुर्योधन और प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को शिशुपाल कहा।

तेज ने यह भी कहा- "दुर्योधन का वध कैसे हुआ था? कृष्ण ने कैसे बताया था कि उसकी जंघा पर वार करना है?' जानकारों का कहना है- "तेज प्रताप के कहने का मतलब निकाले तो वह जानते हैं कि संजय का राजनीतिक खात्मा कैसे करेंगे और जगदानंद को किस राजनीतिक हथियार से प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी से हटाएंगे!' लालू प्रसाद कई बार इशारों में बात करते रहे हैं। खुद को सेकेंड लालू कहने वाले तेजप्रताप भी अब उसी तरह इशारों में बात कर रहे हैं।

महाभारत की कहानी में शिशुपाल का वध श्रीकृष्ण ने किया था

महाभारत में शिशुपाल की कहानी पर गौर करें तो पाएंगे कि शिशुपाल का सामना भगवान श्रीकृष्ण से हो जाता है। भगवान श्रीकृष्ण का युधिष्ठिर आदर सत्कार करते हैं तो यह बात शिशुपाल को पसंद नहीं आती है और सभी के सामने श्रीकृष्ण को बुरा भला कहने लगता है। श्रीकृष्ण शांत मन से यह सब देखते रहे, लेकिन शिशुपाल लगातार अपमान करता रहा। श्रीकृष्ण वचन से बंधे थे, इसलिए शिशुपाल की सभी गलतियों को बर्दाश्त करते रहे। जैसे ही शिशुपाल ने सौ अपशब्द पूरे किए और 101 वां अपशब्द कहा, श्रीकृष्ण ने सुदर्शन चक्र से शिशुपाल का वध कर दिया।

खबरें और भी हैं...